कानपुर, जेएनएन। कोतवाली क्षेत्र के मकरंद निवादा गांव में बीती रात हाईस्कूल की छात्रा ने कमरा बंद कर पंखे के कुंडे से दुपट्टे के सहारे फांसी लगा ली। सुबह जब कमरे के बाहर पिता ने बेटी के शव को पंखे के सहारे लटकता हुआ देखा तो वे अवाक रह गए। उसके बाद उन्होंने पुलिस को सूचना दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने जांच पड़ताल की वहीं फारेंसिक टीम ने साक्ष्य एकत्र किए ।

मकरंद नवादा गांव निवासी रामकुमार वर्मा खेतीबाड़ी करते हैं उनकी 17 वर्षीय पुत्री हाई स्कूल की छात्रा थी और एक छोटा पुत्र अंशु व रिया है। रामकुमार का कहना है कि पत्नी सुनीता 2 दिन पूर्व भतीजे के मुंडन संस्कार के चलते मायके गई है। बुधवार रात वह खाना खाकर पशुओं की रखवाली के लिए घर के बाहर सो रहे थे। जबकि अंदर उनकी बेटी श्रद्धा व दोनों बच्चे सो रहे थे। रात लगभग 12 बजे वह अंदर गए तो पड़ोसी ओमप्रकाश का लड़का अखिलेश बेटी से बातचीत कर रहा था। उनके पहुंचने पर अखिलेश उन्हेंं धक्का मार कर भाग गया वह पीछे दौड़े लेकिन तब तक अखिलेश घर में घुस गया। इसके बाद वह बाहर लेट गए सुबह जब वह घर के अंदर गए तो देखा दरवाजा अंदर से बंद था खिड़की से झांककर देखा तो श्रद्धा दुपट्टे के सहारे फांसी से लटक रही थी।

 काफी देर के बाद शोरगुल सुनकर मौके पर ग्रामीण एकत्रित होने लगे। पुलिस ने खिड़की तोड़कर दरवाजा खोला एवं जांच पड़ताल के बाद पोस्टमार्टम के लिए भेजा। इंस्पेक्टर प्रयाग नारायण बाजपेई ने बताया की किशोरी के पिता ने पड़ोसी के पुत्र पर आरोप लगाया है तहरीर के आधार पर रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021