कानपुर, जेएनएन। कैंट स्थित कानपुर क्लब लिमिटेड में वाणिज्य कर जोन द्वितीय के एसआइबी रेंज की टीम ने छापा मारा है। कागजातों की जांच-पड़ताल के दौरान पाया गया कि जून से सितंबर माह तक रिटर्न ही दाखिल नहीं किया गया है। प्रारंभिक जांच में लाखों की कर चोरी पकड़ी है। इस पर 15 लाख जुर्माना लगाते हुए नोटिस दी है। टैक्स चोरी एवं गड़बड़ी मिलने पर जांच की कार्रवाई अभी जारी है।

वाणिज्य कर (स्टेट जीएसटी) के एडिशनल कमिश्नर जोन द्वितीय राकेश कुमार सिंह को कानपुर क्लब में टैक्स जमा नहीं करने की शिकायत मिली। सूचना की पुष्टि पर उनके निर्देश में एडिशनल कमिश्नर ग्रेड 2 जोन द्वितीय दिनेश मिश्रा तथा च्वाइंट कमिश्नर एसके सिंह एवं डीके वर्मा के निर्देशन में कार्रवाई की गई। डिप्टी कमिश्नर चंद्रशेखर के नेतृत्व में वाणिच्य कर अधिकारी प्रमोद कुमार, वीरेंद्र मिश्र, ममता उपाध्याय, ज्ञानेश त्रिपाठी एवं ज्ञान रतन ने कानपुर क्लब में छापा मारा। कागजातों की जांच-पड़ताल में अधिकारियों ने पाया कि जून से सितम्बर 2019 का रिटर्न 3बी और आर-1 ही दाखिल नहीं किया है।

क्लब द्वारा हेल्थ फिटनेस क्लब, बार, रेस्तरां, क्लब की सेवाएं तथा पार्टी और डीलक्स कमरे की सेवाएं दी जाती हैं। सभी सुविधाएं क्लब के सदस्यों के लिए हैं। सदस्यता शुल्क 20 लाख रुपये है। सदस्यों की संख्या 3500 है और प्रत्येक सदस्य से 8000 रुपये प्रतिवर्ष सदस्यता शुल्क लिया जाता है। अधिकारियों के मुताबिक गलत आइटीसी का उपभोग, टैक्स एवं रिटर्न जमा नहीं करने का मामला पकड़ा गया है। सभी भुगतान पर टैक्स वसूला जाएगा। क्लब के लेखा पंजिका की जांच चल रही जारी है। प्रारंभिक जांच में लगभग 15 लाख रुपये का टैक्स एवं ब्याज बनता है। जुर्माना वसूलने के लिए नोटिस दिया है।

Posted By: Abhishek

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप