कानपुर, जेएनएन। फतेहपुर जनपद के औंग थाना क्षेत्र के एक गांव में प्रेमी से शादी करने का सपना संजोने वाली किशोरी की मौत हो गई। प्रेमी के शादी से इन्कार किए जाने पर उसने भाई की झोपड़ी के अंदर खुद को आग लगा ली थी। पांचवें दिन एलएलआर अस्पताल हैलट कानपुर में उपचार के दौरान मौत हो गई।

आपत्तिजनक हालत में पकड़े गए थे दोनों

औंग थाना क्षेत्र के गांव में रहने वाले प्रेमी युगल को घर वालों ने आपत्तिजनक हालत में पकड़ लिया था। दोनों एक ही स्कूल में साथ-साथ पढ़ते थे और करीब दो साल से उनमें प्रेम प्रसंग चल रहा था। कक्षा-8 तक पढ़ाई के बाद परिजनों ने किशोरी का स्कूल जाना बंद करा दिया था। जबकि प्रेमी किशोर कक्षा नौ में पढ़ रहा था। गांव में पंचायत के बाद सजातीय होने के कारण दोनों की शादी कराए जाने की सहमति बनी थी। इसके लिए तारीख भी तय हो गई थी लेकिन शादी वाले दिन से पहले प्रेमी किशोर फरार हो गया था।

खुद को लगा ली थी आग

किशोरी अपने प्रेमी के साथ शादी का सपना संजोए थी और उसने मोबाइल फोन पर उससे बात की थी। इसपर प्रेमी ने गांव आने से मना कर दिया था। किशोरी ने जान देने की धमकी देते हुए शादी की बात कही थी तो उसने इनकार कर दिया था। इससे आहत किशोरी ने 15 जनवरी को भाई के घर (झोपड़ी) के अंदर खुद को आग लगा ली थी। गंभीर रूप से झुलसी किशोरी को कानपुर एलएलआर हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था।

सोमवार की भोर पहर उसकी इलाज के दौरान अस्पताल के बर्न यूनिट में मौत हो गई। किशोरी की मौत के बाद तनाव के मद्देनजर भारी पुलिस बल गांव पहुंच गया। थाना प्रभारी राकेश मौर्य ने बताया कि किशोरी के भाई की तहरीर पर किशोर सहित छह लोगों पर मुकदमा दर्ज किया गया था। आरोपित किशोर समेत चार लोगों को गिरफ्तार करके जेल भेजा जा चुका है। दो आरोपितों की तलाश की जा रही है। किशोरी की मौत के चलते गांव में पुलिस तैनात की गई है।

Posted By: Abhishek

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस