कानपुर, जेएनएन। घाटमपुर के एक गांव में किराए पर कमरा लेकर भाई के साथ रहने वाली दसवीं की छात्रा की हत्या से सनसनी का माहौल है और ग्रामीणों में तरह-तरह की चर्चाएं हो रही हैं। दसवीं की छात्रा का शव सोमवार की रात फांसी पर लटका मिला था, इसके कुछ देर पहले ही मकान मालिक का बेटा कमरे से बाहर निकला था। पुलिस ने परिजनों की तहरीर पर मकान मालिक के बेटे पर ब्लैकमेलिंग, दुष्कर्म की कोशिश, हत्या करने और गांव में रहने वाले छात्रा के दोस्त पर छेड़छाड़ का आरोप लगाते हुए मुकदमा दर्ज कर दोनों किशोरों को हिरासत में लिया है। मकान मालिक से भी पूछताछ की जा रही है। पोस्टमार्टम में बेरहमी से पीटने और मुंह दबाकर हत्या की पुष्टि हुई है तथा दुष्कर्म की आशंका पर डॉक्टरों ने स्लाइड भी बनाई है।

भाई के साथ किराये पर रही थी दसवीं की छात्रा

फतेहपुर निवासी 14 वर्षीय छात्रा 10 वर्षीय भाई के साथ गांव में ही एक किसान के घर किराये पर कमरा लेकर रह रही थी। छात्रा दसवीं में पढ़ती थी, जबकि उसका भाई दूसरे स्कूल में कक्षा चार का छात्र है। मकान मालिक किसान का बेटा भी छात्रा के स्कूल में ही 12वीं में पढ़ता है। मोहल्ले वालों ने बताया कि पढ़ाई के दौरान छात्रा की दोस्ती पड़ोस के कमरे में रहने वाले उसी विद्यालय में 12वीं के छात्र से थी। एक सप्ताह पूर्व दोनों गांव के बाहर बगीचे में दिखे थे। मकान मालिक के बेटे ने उन्हें देखा था और छात्रा को दो थप्पड़ मारकर पिता से शिकायत करने की धमकी दी थी। परिजनों का आरोप है कि इसके बाद से वह बेटी को ब्लैकमेल कर रहा था।

भाई ने बताई उस रात की कहानी

छात्रा के छोटे भाई ने बताया कि सोमवार की रात में वह कमरे के बाहर बरामदे में सो रहा था। देर रात आहट पाकर उठा तो कमरा अंदर से बंद था। पीटने पर भी दरवाजा नहीं खुला तो बरामदे में सो रहे मकान मालिक को जगाया। मकान मालिक के आवाज देने पर बहन के कमरे से उनका उनका बेटा निकला। मकान मालिक ने अपने बेटे को थप्पड़ों से पीटा तो वह भाग गया। कुछ देर बाद वह कमरे में घुसा तो बहन को फंदे पर लटके देखा।

आरोपितों की कहानी में उलझ गई पुलिस

मकान मालिक ने घटना की सूचना पहले छात्रा के परिजनों फिर पुलिस को दी। पूछताछ के आधार पर सभी पुलिस अधिकारी फांसी लगाकर आत्महत्या करने की आशंका जताते रहे लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट ने सबकुछ साफ कर दिया। छात्रा के छोटे भाई ने बताया कि मकान मालिक के पीटने पर उनका बेटा घर से बाहर निकल गया था। इसके बाद वह आधे घंटे तक मकान मालिक के साथ था, बहन को देखने नहीं जा पाया। कुछ देर के लिए बहन के कमरे की लाइट भी बंद हुई थी। इसी बीच बहन की मौत हुई। पुलिस पता लगाने की कोशिश कर रही है कि इस बीच छात्रा के कमरे में कौन आया? छात्रा का भाई व पड़ोस के कमरे में रहने वाला दूसरा छात्र ही घटनाक्रम के साक्षी हैं। दोनों ने ही कमरे से मकान मालिक के बेटे को निकलते देखा था।

शरीर पर मिली कई चोटें, कपड़े भी फटे थे

छात्रा के शरीर पर कई चोटें मिली और उसके कपड़े भी फटे थे। इससे उसके साथ दुष्कर्म की आशंका है। फिलहाल पुलिस मौत के बाद छात्रा के शव को फंदे पर किसने और कैसे लटकाया, इसका जवाब ढूंढने की कोशिश कर रही है। एसपी ग्रामीण प्रद्युम्न सिंह ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट से छात्रा की हत्या की पुष्टि हुई है। पिता ने मकान मालिक के बेटे और एक अन्य छात्र पर आरोप लगाते हुए मुकदमा दर्ज कराया है। दोनों किशोरों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। दुष्कर्म की आशंका पर डॉक्टरों ने स्लाइड बनाई है, जिसकी जांच के बाद ही कुछ कहा जा सकेगा।

Posted By: Abhishek

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप