कन्नौज, जेएनएन। आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर बुधवार रात तेज रफ्तार बस डिवाइडर से टकराने के बाद पलट गई। हादसे में बस में सवार यात्रियों की मौत हो गई, जबकि 60 से अधिक लोग घायल हो गए। घायलों को मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है। वहां से 13 लोगों को रेफर कर दिया गया।

बुधवार रात 10.30 बजे आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर जयपुर से बिहार टूरिस्ट बस जा रही थी। बस में अलग-अलग जगहों के यात्री सवार थे। कोतवाली क्षेत्र के फगुआ भट्टा के सामने बस तेज रफ्तार के कारण डिवाइडर से टकरा गई। बस का टायर फटा और पलट गई।

हादसे में घायल लोगों को बचाने के लिए यूपीडा सुरक्षाकर्मी से लेकर प्रशासनिक अमला भी जुट गया। मेडिकल कॉलेज में भी भगदड़ का माहौल हो गया। डॉक्टरों की टीम इलाज में जुट गई। 13 यात्रियों की हालत नाजुक होने से लखनऊ व कानपुर रेफर कर दिया गया है। मौके पर कोतवाली प्रभारी टीपी वर्मा व क्षेत्राधिकारी सुबोध कुमार जयसवाल पहुंच गए। उन्होंने घायलों के सामान को सुरक्षित करने के साथ इलाज के पुख्ता इंतजाम कराए।

डीएम व एसपी ने पहुंचकर ली जानकारी

घटना में अभी तक मृतकों की शिनाख्त नहीं हो सकी है। उन्होंने बताया कि जांच करने के बाद शिनाख्त की जाएगी। इसके बाद आगे की कार्रवाई होगी। डीएम रवींद्र कुमार और एसपी अमरेंद्र प्रसाद मेडिकल कॉलेज पहुंच गए हैं। यहां घायलों से बात की और हादसे के कारण के बारे में जाना।

डीएम रवींद्र कुमार ने कहा है कि हादसे में चार लोगों की मौत हुई है। वहीं घायलों का मेडिकल कॉलेज में बेहतर उपचार किया जाएगा। मरने वालों की अभी शिनाख्त नहीं हो सकी है।  घायलों के परिजनों को जानकारी दे दी जाएगी। मरने वालों की जैसे ही शिनाख्त होगी, उनके परिजनों को भी सूचित किया जाएगा।

पुलिस ने घायलों को अस्पताल पहुंचा सुरक्षित किया सामान

पुलिस की सतर्कता के कारण बस में सवार यात्रियों का सामान लुटने से बच गया। पुलिस जैसे ही घटनास्थल पर पहुंची सबसे पहले उसने बस को चारों ओर से घेर लिया। ग्रामीणों को आसपास फटकने तक नहीं दिया। आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर हुए हादसे में ऐसा पहली बार हुआ कि पुलिस समय पर पहुंच गई हो।

हर बार पुलिस बाद में और ग्रामीण पहले पहुंच जाते थे, जो मदद कम सामान लूटने का काम अधिक करते थे। कोतवाली प्रभारी टीपी वर्मा ने बताया कि यात्रियों के सामान को सुरक्षित कोतवाली में रखवा दिया गया है। हादसा आगरा लखनऊ एक्सप्रेस वे पर 193 किमी पर हुआ। इस प्वाइंट पर पहली बार हादसा हुआ है।

मृतकों के नाम

1-जाकिर हुसैन मंसूरी (45) पुत्र बाबू खान मंसूरी निवासी खिरनी मलारला, सवाई, माधौपुर, राजस्थान।

2-शिवचंद्र (35) निवासी मुजफ्फरपुर।

3-प्रेमशीलाला (35) पत्नी शरण कुमार निवासी बल्लभ भट्ट, खानपुर, समस्तीपुर, बिहार। 

4-गुड्डू देवी (32) पत्नी विजय कुमार निवासी नाराहाला, बागपति सीतामढ़ी, बिहार।

Posted By: Abhishek

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस