जागरण संवाददाता, कानपुर : बर्रा पुलिस ने नशीला पदार्थ पिलाकर ई-रिक्शा लूटने वाले गिरोह का राजफाश किया है। पुलिस ने बर्रा-2 निवासी सगे भाइयों अनूप और आलोक श्रीवास्तव के अलावा गिरोह के सरगना ककवन निवासी अश्वनी सविता और पुष्पेंद्र राठौर को गिरफ्तार किया है। आरोपितों के पास से लूटे गए तीन ई-रिक्शा और मोबाइल फोन बरामद हुआ है।

डीसीपी दक्षिण रवीना त्यागी ने शनिवार को पत्रकार वार्ता में यह जानकारी दी। बताया कि तीन जुलाई को बर्रा निवासी ई रिक्शा चालक चंद्रप्रकाश मिश्रा लापता हो गए। पुलिस मामले की जांच कर रही थी कि 11 जुलाई को पनकी के रतनपुर निवासी अशोक कुमार के स्वजन ने ई-रिक्शा लूटे जाने की शिकायत की। अशोक कुमार बेसुध हालत में मिले, जिन्हें हैलट में भर्ती कराया गया। उन्हें नशीला पदार्थ दिया गया था। अगले दिन दादानगर निवासी जगनंदन ने भी ई रिक्शा लूटने की शिकायत दर्ज कराई। उन्हें भी नशीला पदार्थ मिलाकर कोल्ड ड्रिंक्स पिलाई गई थी। स्पष्ट हो गया कि शहर में कोई गिरोह सक्रिय है।

आरोपित सामान ले जाने के बहाने ई रिक्शा बुक करते थे। रिक्शा सचेंडी और शिवली की ओर ले जाते थे, क्योंकि ये सुनसान इलाके हैं। ई - रिक्शा बुक करने से पहले चालकों से कुछ दिन तक मोबाइल पर दोस्ताना लहजे में बात करते थे फिर उन्हे सचेंडी व शिवली जाने पर राजी कर लेते थे। पुलिस ने भी इसी आधार पर जाल बुना और चारों को गिरफ्तार कर लिया गया। गिरोह के अन्य सदस्यों की तलाश हो रही है। पुलिस टीम को पुरस्कृत किया जाएगा।

Edited By: Jagran