जागरण संवाददाता, कानपुर : रेल बाजार पुलिस ने पूर्व ब्लाक प्रमुख प्रत्याशी और 15 हजार के इनामी, गैंगस्टर एक्ट के आरोपित दीपक यादव को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने आरोपित पर कानूनी कार्रवाई कर उसे जेल भेजा। आरोपित का नाम चकेरी थानाक्षेत्र में सरकारी जमीनों पर कब्जेदारी को लेकर भी प्रकाश में आया था।

चकेरी के गांधीग्राम निवासी दीपक यादव उर्फ दीपक चौधरी आपराधिक प्रवृत्ति का है। दीपक के खिलाफ चकेरी थाने में हत्या के प्रयास, धोखाधड़ी, एससीएसटी एक्ट, आयुध अधिनियम और गुण्डा अधिनियम समेत अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज हैं। करीब दो माह पूर्व आरोपित के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट की कार्रवाई की गई थी। जिसकी जांच रेल बाजार थाना प्रभारी रवि श्रीवास्तव कर रहे थे। थाना प्रभारी रवि श्रीवास्तव ने बताया कि आरोपित क्षेत्र में अवैध वसूली करता था। पुलिस से बचने के लिए उसने सपा सरकार में पार्टी की सदस्यता ले रखी थी। हाल में दीपक ने कानपुर देहात के अकबरपुर से सपा से ब्लाक प्रमुख प्रत्याशी का चुनाव लड़ा था, जिसमें वह चार वोटों से हार गया था। गैंगस्टर लगने के बाद से आरोपित की तलाश की जा रही थी। आरोपित पर 15 हजार रुपये का इनाम भी घोषित था। मुखबिर की सूचना पर बुधवार को लखनऊ के बनी बंथरा में एक घर से आरोपित को गिरफ्तार किया गया है। आरोपित पर कानूनी कार्रवाई कर उसे जेल भेजा गया है।

------------

दो अन्य साथियों सुरेश शुक्ला और राधेश्याम पर भी इनाम

दीपक यादव के साथ पुलिस ने गैंगस्टर एक्ट के तहत सफीपुर प्रथम निवासी सुरेश शुक्ला और सावित्रीनगर निवासी राधेश्याम को भी आरोपित बनाया था। थाना प्रभारी ने बताया कि इन दोनों आरोपितों के खिलाफ भी 15-15 हजार रुपये का इनाम घोषित किया गया है। गैंगस्टर एक्ट की धारा 14-ए के तहत आरोपितों की संपत्ति जब्तीकरण की कार्रवाई भी की जाएगी।

Edited By: Jagran