कानपुर, जेएनएन। खाद्य विभाग व मंगलपुर पुलिस के छापे में मंगलपुर थाना के कशोलर गांव में नवनिर्वाचित ग्राम प्रधान के घर पर ट्रक में लदा 152 बोरी सरकारी गेहूं मिला। प्रधान के अलावा उसके भाई समेत पांच पर मुकदमा दर्ज किया गया। रविवार की शाम एसएमआई राजपुर मोबीन अहमद को मंगलपुर थाना के कशोलर गांव में झींझक के आरएफसी के खरीद केंद्र के छापे लगी बोरियों में गेहूं की तौल होने की जानकारी मिली। इस पर उन्होंने छापा मार कर ग्रामप्रधान प्रदीप उर्फ ङ्क्षपटू के घर के सहन में 152 सरकारी बोरियां गेहं से भरी मिली व 122 बोरियां खाली व एक सिलाई की मशीन व तौल का कांटा मिला। मौके पर ही एक ट्रक भी खड़ा था। टीम ने माल व ट्रक को पकड़ कर थाने भिजवाया और एसएमआई राजपुर मोबीन अहमद ने मंगलपुर थाने में तहरीर देकर प्रधान प्रदीप कुमार उसके भाइयों दिलीप, महेंद्र के साथ ही गांव के सर्वेश दीक्षित व अवनीश दीक्षित के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। थाना प्रभारी मंगलपुर वीरपाल ने बताया कि मुकदमा दर्ज किया गया है।

विपणन निरीक्षण की भूमिका संदिग्ध : सरकारी गेहूं मिलने से मिलीभगत जाहिर होती है और विपणन निरीक्षक हाट शाखा झींझक की भूमिका संदिग्ध प्रतीत हो रही। ऐसी स्थिति में इनके विरूद्ध जिला खाद्य एवं विपणन अधिकारी से जांच कर सही स्थिति स्पष्ट करने को डीएम ने कहा है।