कानपुर, जेएनएन। नौबस्ता में लव जिहाद का एक और मामला सामने आया है। जहां युवक ने नाम बदलकर पहले युवती को प्रेम जाल में फंसाया और बाद में दबाव डालकर धर्म परिवर्तन करके कोर्ट मैरिज कर ली। शुक्रवार को मामला तब प्रकाश में आया जब आरोपित पीडि़त के घर जा पहुंचा और हंगामा शुरू कर दिया। पीडि़त परिवार की सूचना पर पहुंची पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया।

नौबस्ता आवास विकास हंसपुरम निवासी शटङ्क्षरग कारीगर के चार बच्चों में सबसे बड़ी 20 वर्षीय बेटी पॉलीटेक्निक की पढ़ाई कर रही है। पिता के मुताबिक छह दिन पहले उन्होंने बेटी को फोन पर किसी युवक से बात करते हुए पकड़ा, जिसके बाद उन्होंने उसका मोबाइल छीन लिया। पूछताछ में बेटी ने बताया कि वह राहुल नाम के युवक के संपर्क में है। सख्ती से पूछताछ करने पर बेटी के बताया कि सात माह पूर्व उसने दूसरे धर्म के युवक से कोर्ट मैरिज कर ली है। इधर युवती से बात न होने पर युवक को शंका हुई तो वह उसके घर पहुंचा और जबरन साथ ले जाने के लिए दबाव डालने लगा।

शोर सुनकर आसपास के लोगों की भीड़ जुटी तो भाग निकला। गुरुवार रात भी युवक उनके घर आया और हाथ पकड़ कर युवती को ले जाने का प्रयास किया। हंगामा बढ़ा तो नौबस्ता पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में उसने अपना नाम नौबस्ता मछरिया निवासी मुख्तार अहमद खान बताया है। पता ये भी चला है कि उक्त युवक ने पहले भी एक युवती को शादी का झांसी देकर अपने साथ रखा और बाद में छोड़ दिया।

स्वजन बोले, जबरन कराया धर्म परिवर्तन

शटङ्क्षरग कारोबारी ने बताया कि आरोपित ने बेटी के बाएं हाथ में अपना नाम भी गुदवाया है। जो हल्का पड़ गया है। आरोप है कि मुख्तार ने उनकी बेटी का जबरन धर्म परिवर्तन कराया है। कोर्ट मैरिज में उसका नाम नूरबानो दर्ज कराया। इतना ही नहीं आरोपित ने उनकी बेटी का ब्रेनवॉश कराने के साथ जादू टोना भी कराया।

अब एसआइटी खंगालेगी दस्तावेज

थाना प्रभारी नौबस्ता कुंज बिहारी मिश्र ने बताया कि कोर्ट मैरिज में दस्तावेज लगे होंगे। अगर दस्तावेज लगाए होंगे तो उनकी छानबीन कराई जाएगी। धर्म परिवर्तन के आरोप पर भी छानबीन की जाएगी।  

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस