कानपुर, जागरण संवाददाता। नौकरी का झांसा देकर लखनऊ बुलाकर मतांतरण का दबाव बनाने व इन्कार करने पर आग लगा जान से मारने का प्रयास करने वाले आरोपित मोहम्मद शहनवाज के खिलाफ गुजैनी पुलिस ने पीटने और आग लगाने, एससी-एसटी की धारा में मुकदमा दर्ज कराया है। एडीसीपी दक्षिण ने पुलिस की दो टीमें गठित कराकर आरोपित की गिरफ्तारी के लिए लखनऊ भेजी है।

पुलिस का दावा है कि जल्द उसे जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा। वहीं, देर रात पीड़िता को गंभीर हालत में परमपुरवा स्थित निजी अस्पताल से उर्सला रेफर कर दिया गया, जहां मजिस्ट्रेट ने उसके बयान भी दर्ज किए। गुजैनी क्षेत्र निवासी पीड़िता ने बताया कि वह यशोदा नगर के पार्लर में काम करती थी। तीन माह पहले सहेली के जरिए मो. शहनवाज से मुलाकात हुई थी।उसने लखनऊ के पार्लर में काम करने पर ज्यादा रुपये का लालच दिया और उसे लखनऊ आलमबाग बुलाया था।

नौ दिसंबर को वह लखनऊ आलमबाग पहुंची थी।शहनवाज ने उसे एक कमरे में रखा, जहां वह सिर्फ नशेबाजी करता था। काम दिलाने के नाम पर टालमटोल करता था। उसने कई दिनों तक उसे जाने नहीं दिया। आरोप है कि उस पर मतांतरण का दबाव भी बनाया था। तीन जनवरी को भागने का प्रयास किया तो उसने चार्जर की केबिल और बेल्ट से बेरहमी से पीटा। फिर भी उसका गुस्सा शांत नहीं हुआ तो उसने मिट्टी का तेल उस पर डालकर आग लगा दी।

युवती की चीख पुकार सुनकर अन्य किराएदार आए। तब उसे लखनऊ जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां शहनवाज ने पर्चे पर उसका नाम रिया खान लिखवाया था और खुद आग लगाने की बात न बोलने पर जहरीला इंजेक्शन लगवाकर मारने का आरोप लगाया था। उसने चोरी छिपे अपनी बुआ को वीडियो काल कर आपबीती बता बुलाया, जिसके बाद स्वजन उसे परमपुरवा स्थित निजी अस्पताल लेकर आए थे,जहां जानकारी मिलने पर जूही पुलिस पहुंची और उसका वीडियो बनाकर उसके बयान दर्ज किए।

कहीं मानव तस्करी करने की तो नहीं थी योजना

जिस तरह से शहनवाज ने पीड़िता को लखनऊ नौकरी का झांसा देकर बुलाया और उसे झांसे में रखकर कई दिनों तक बंधक बनाकर रखा व उस पर मतांतरण का दबाव बना रहा था। उससे अनुमान यह भी लगाया जा रहा है कि कहीं शहनवाज पीड़िता को कहीं बेचने की योजना तो नहीं बना रहा था। पुलिस शहनवाज की गिरफ्तारी के बाद मानव तस्करी के बिंदु पर भी जांच करेगी व घटना की सही वजह पता करेगी।

महिला ने गुजैनी थाने में बताया कि उनकी पोती लखनऊ में पार्लर में नौकरी ढूंढने गई थी, जहां उसकी दोस्ती शहनवाज से हुई और वहां वह उसके घर पर रही।दोनों के बीच झगड़ा होने पर शहनवाज ने उससे मारपीट की और तेल डालकर जलाने की कोशिश भी की। पीड़िता का लखनऊ में इलाज भी चला था।उस युवती को अब उर्सला में भर्ती कराया गया है। जहां उसकी स्थिति सामान्य है। प्रकरण में मुकदमा दर्ज कर दो टीमें रवाना की गई है। आरोपित की जल्द गिरफ्तारी की जाएगी।

अंकिता शर्मा, एडीसीपी दक्षिण

Edited By: Prabhapunj Mishra

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट