कानपुर [जागरण स्पेशल[। शहर में आयोजित एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने आए फिल्म अभिनेता गोविंदा ने प्रियंका वाड्रा के रोड शो में हिस्सा लेने के सवाल पर कहा कि दस वर्षों से पॉलिटिकल फंक्शन में नही गया। राजनीति क्यों छोड़ी पर जवाब दिया अमिताभ बच्चन की तो राजनीति छोडऩे की लोग वजह जानते हैं लेकिन मेरी तो वजह ही पता नहीं चली। कहा, जिस विषय के आप ज्ञाता न हो वो काम नहीं करना चाहिए।

बयानबाजी कर रहे राजनीतिज्ञों की फिसल रही जुबान पर सीधे जवाब देने के बजाय कहा जो करना चाहिए वो नहीं हो रहा है और जो नहीं करना चाहिए वही हो रहा है। लड़ाइयां आम हो गई हैं और भाषा तमाम हो गई हैं। प्रमुख विषय पर बात नहीं हो रही है। तकलीफों के हल निकल सकते हैं, बस उस पर चर्चा होनी चाहिए। उन्होंने कहा आज हनुमान जयंती है इसलिए पनकी में बाबा के दर्शन किए। पनकी दर्शन से ही करियर भी स्टार्ट किया था।
सर्जिकल स्ट्राइक पर नहीं बोले
सर्जिकल स्ट्राइक पर उठ रहे सवाल पर कहा कि देश की परिस्थिति समझते हैं। यह ऐसा विषय है, जिस पर बोला नहीं जा सकता है। कांग्रेस की राजनीति पर बोले, मैं बोलता हूं तो भयभीत हो जाते हैं। बहुत अच्छा किया जो मैंने चर्चा नही की। माता पिता व साधु संतों का आदेश था इसलिए राजनीति में था। अगर आदेश हुआ तो फिर देखूंगा।
यादगार फिल्म हो तभी करूंगा काम
गोविंदा ने कहा कितीन चार फिल्म ऑफर हुई हैं लेकिन फिल्म यादगार हो तभी काम करूंगा। 100 करोड़ के क्लब में पहुंचने से ही फिल्म सफल है इस पर कहा सप्ताह भर फिल्म चल नही पाती इसलिए अब क्लब में रखकर उसकी सफलता का पैमाना तय किया जाता है।  

Posted By: Abhishek

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस