जागरण संवाददाता, कानपुर : कोहना रानीघाट निवासी पेंटर नन्हें यादव के घर बेटे की जन्मदिन पार्टी पर शुक्रवार रात खाना बनाते समय सिलिंडर से आग लग गई। आग बुझाने की कोशिश में कमरे में मौजूद परिवार झुलस गया। उनकी पत्नी व बेटी की हालत गंभीर बताई जा रही है। लोगों ने सभी को एलएलआर अस्पताल (हैलट) में भर्ती कराया है। जहां एसीएम अरुण कुमार ने आकर बयान दर्ज किए।

नन्हें यादव रानी का बगीचा क्षेत्र में कुछ दिन पूर्व ही पत्नी अनीता, बेटे करन, बेटी मानसी व अर्जुन के साथ किराये पर रहने आए थे। उसी घर में उनकी पत्नी के भाई राकेश भी परिवार संग रहते हैं। शुक्रवार को करन का जन्मदिन था। शाम को करन, दोस्त अमित दीक्षित के साथ पांच किलो वाले दो सिलिंडर भरवाकर लाये। करन ने बताया कि करीब सात बजे मा अनीता, बहन मानसी व ममेरी बहन पायल के साथ खाना बना रही थीं। बाकी लोग दूसरे कमरे में थे। इसी दौरान सिलिंडर में लीकेज की वजह से आग लग गई। मां व बहनों ने शोर मचाया तो वह कमरे में पहुंचा और सभी को बाहर निकाला। लेकिन सिलिंडर फटने के डर से दोबारा अंदर जाकर आग बुझाने के लिए कंबल डालने लगे। तभी लपटें और तेज हो गई।

हादसे में करन, उसकी मां अनीता, बहन मानसी, पायल, दोस्त अमित, 10 वर्षीय ममेरा भाई तन्मय व पड़ोसी ओमप्रकाश झुलस गए। सूचना पर नन्हें भी पहुंचे और मोहल्लेवालों की मदद से सभी को अस्पताल पहुंचाया। नन्हें ने कहा कि गनीमत रही कि सिलिंडर फटा नहीं। कुछ देर बाद पुलिस भी पहुंची। डॉक्टर के मुताबिक अनीता, मानसी व पायल 40-50 फीसद झुलस गई हैं। बाकी की हालत स्थिर है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस