जागरण संवाददाता, कानपुर : नोटिस के बाद भी बैराज से मंधना के बीच में हो रहे अवैध निर्माणों के खिलाफ केडीए मुकदमा दर्ज कराने की तैयारी कर रहा है। रोक के बाद भी लोग बिना लेआउट, डूब क्षेत्र की जमीन व हाईटेंशन लाइन के नीचे प्लाटिग करने में जुटे हुए हैं। केडीए निर्माण करने वालों को नोटिस दे चुका है, जिसमें कई लोगों ने काम रोक दिया है तो कई अब भी निर्माण करा रहे हैं।

दैनिक जागरण बैराज से मंधना, मैनावती मार्ग से सिंहपुर और सिंहपुर से कल्याणपुर में बिना लेआउट के हो रही प्लाटिग और निर्माण के खिलाफ अभियान चला रहा है। अभियंताओं की मेहरबानी से बिल्डरों ने क्षेत्र में तमाम जगह प्लाटिग कर दी है। एक भी प्लाटिग का लेआउट केडीए से स्वीकृत नहीं है। सिचाई विभाग का बंधा तोड़कर रैंप बना दिए गए। दैनिक जागरण में खबर छपने के बाद सिचाई विभाग ने रैंप बनाने वालों को नोटिस दी तो कई लोगों ने रैंप तोड़ दिए। हालांकि अब भी कई रैंप बने हुए हैं। उनको भी तोड़ने का फिर से नोटिस दिया है। केडीए के विशेष कार्याधिकारी भैरपाल सिंह ने बताया कि नोटिस देने के बाद भी निर्माण करने वालों को चिह्नित किया गया है। उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया जाएगा। सहायक अभियंता मुन्ना लाल को आदेश दिए हैं कि चिह्नित करके मुकदमा दर्ज कराया जाए। बिना मानकों के एक भी निर्माण नहीं होने दिया जाएगा। वहीं उपाध्यक्ष राकेश सिंह ने बैराज से मंधना और कल्याणपुर से सिंहपुर व मैनावती मार्ग के बीच में अवैध प्लाटिग के मामले में दस्ते में तैनात पूर्व प्रभारियों और अभियंताओं की सूची तलब की है। अभियंताओं और बिल्डरों की दोस्ती के चलते ही बिना नियोजन के विकास हो गया।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस