कानपुर, जेएनएन। कानपुर प्राणि उद्यान (चिडिय़ाघर) देखने के लिए दर्शकों को जल्द ही अधिक शुल्क देना होगा। शासन ने इस बाबत चिडिय़ाघर प्रशासन के पास पत्र भेज दिया है। अभी तक अल्प वयस्क (पांच साल से 12 साल तक) के लिए प्रवेश शुल्क 15 रुपये व वयस्क का 30 रुपये है। मछलीघर का शुल्क मिलाकर अल्प वयस्क का प्रवेश शुल्क 20 रुपये व वयस्क का 40 रुपये निर्धारित है। इस हफ्ते निदेशक की अध्यक्षता में होने वाली बैठक में इसे बढ़ाए जाने पर मुहर लगाई जाएगी।

सहायक वन संरक्षक अरविंद कुमार सिंह ने बताया कि दूसरे राज्यों से कानपुर प्राणि उद्यान का शुल्क अभी भी कम है। बढ़ा हुआ शुल्क तय कर दिया गया है। अल्प वयस्क के लिए 25 रुपये व वयस्क के लिए 50 रुपये शुल्क निर्धारित किया गया है, जबकि मछलीघर के शुल्क के साथ यह शुल्क 30 रुपये व 60 रुपये हो जाएगा। उन्होंने बताया कि प्राणि उद्यान निदेशक सुनील चौधरी की अध्यक्षता में होने वाली बैठक के बाद यह बढ़ा हुआ शुल्क लागू किया जाएगा।

दक्षिण अफ्रीका से आएगा जेब्रा का जोड़ा

सहायक वन संरक्षक ने बताया कि दर्शकों के लिए चिडिय़ाघर में नए पशु पक्षी लाए जाने की तैयारी है। दक्षिण अफ्रीका से जेब्रा का जोड़ा दिसंबर तक आ जाएगा। यहां पर जो जेब्रा है, उसे राजकोट भेजा जाएगा। साल भर के अंदर नए जानवरों में गुवाहाटी से संघाई हिरण, मुंबई से ग्रीन मकाऊ आए हैं। वर्तमान में यहां 123 प्रजातियों के 1486 पशु पक्षी हैं।

वन्य जीव सप्ताह में होंगी बच्चों के लिए प्रतियोगिताएं

चिडिय़ाघर प्रशासन एक से सात अक्टूबर तक वन्य जीव सप्ताह मनाने जा रहा है। इस दौरान स्कूली बच्चों का प्रवेश निश्शुल्क रहेगा। 60 स्कूलों के दो हजार से छात्र छात्राओं के लिए प्राकृतिक सौंदर्य, वन्य जीव जैसे विषयों पर चित्रकला व भाषण जैसी कई अन्य प्रतियोगिताएं आयोजित कराए जाने की तैयारी है। 

Posted By: Abhishek

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप