गाड़ी खड़ी करने के विवाद में मुस्लिम युवकों ने दुकानदार को दी जान से मारने की धमकी

संवाद सहयोगी,बिल्हौर: कस्बे के ककवन रोड पर गुरुवार देर शाम गाड़ी खड़ी करने के विवाद में मुस्लिम युवकों ने दुकानदार को जान से मारने की धमकी दी। पुलिस ने दुकानदार की तहरीर पर मुकदमा दर्जकर एक आरोपित को हिरासत में लिया है।

मूलरूप से खांहीझाल व वर्तमान मे रहमतपुर गांव निवासी अमित यादव ने पुलिस को बताया कि गुरुवार देर शाम ककवन रोड पर स्थित मोबाइल की दुकान बंद करते समय चार पांच ग्राहक गाड़ी खड़ीकर दुकान में आ गए।इस बीच पड़ोस में स्थित शुलभ शौचालय की देखरेख करने वाले मुल्लाजी उनके लड़के सलमान, चंदू, दो अज्ञात बेटे के साथ दस पंद्रह बाहरी लोग आए और गाड़ी खड़ी करने को लेकर गाली गलौज करने लगे।आरोप है कि इस दौरान उक्त लोग हाथ में चाकू और तलवार लिए थे और जान से मारने की धमकी दी।इस दौरान उक्त लोग चिंगारी गैंग का नाम ले रहे थे।दुकानदार का कहना है कि मुल्लाजी झाड़फूंक के साथ ही अवैध काम करते हैं। इंस्पेक्टर अरविंद कुमार सिंह ने बताया कि आरोपित पप्पू शौचालय की देखभाल करता है। शौचालय के रास्ते के सामने गाड़ी खड़ी करने को लेकर कहासुनी हुई है।पप्पू मोहर्रम में पैकी बनाने का कार्य करता है। उसके घर से पैकी बनाने के दौरान कमर में बांधने वाले दो चाकू मिले हैं।तहरीर के आधार पर मुल्लाजी उसके बेटे,सलमान,चंदू,दो अज्ञात बेटे व पंद्रह अज्ञात के खिलाफ बलवा व जान से मारने की धमकी देने की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है। सलमान को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।

बीते माह भी मुस्लिम युवकों ने की थी मारपीट

कस्बे के महाराणा प्रताप नगर में 15 जुलाई की शाम को फास्ट फूड की दुकान से फिंगर खाकर घर जा रहे पंतनगर निवासी मोहर सिंह के बेटे प्रथम कुमार व राहुल व उनके ममेरे भाई संदीप से मारपीट की थी। युवकों ने राहुल को मरणासन्न कर दिया था। पुलिस ने प्रथम की तहरीर के आधार पर सोलह नामजद व पचास अज्ञात समेत 66 लोगों के खिलाफ गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज किया था। मामले में पुलिस मुख्य आरोपित दानिश समेत 32 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है।

Edited By: Jagran