कानपुर, जेएनएन। जिले में कोरोना वैक्सीनेशन को युवाओं में सर्वाधिक उत्साह एवं जागरूकता है। बढ़-चढ़कर वैक्सीन लगवाने के लिए पहुंच रहे हैं। इसके बावजूद स्वास्थ्य महकमा लापरवाही बरत रहा है। गुरुवार को जिले से अधिकतर कोरोना वैक्सीनेशन सेंटर में अव्यवस्था रही। इस वजह से वैक्सीनेशन कराने के लिए आए लोगों में अफरातफरी रही। कई सेंटरों पर वैक्सीन विलंब से पहुंची तो कई जगह वैक्सीन कम पड़ गई। इस वजह से हंगामे जैसी स्थिति उत्पन्न हो गई।

गुरुवार को कोरोना वैक्सीनेशन के लिए 88 कोविड वैक्सीनेशन सेंटर (सीवीसी) सेंटर बनाए गए थे। 66 सेंटर पर 45 पार के लोगों का वैक्सीनेशन होना था, जबकि 22 सेंटरों पर 18-44 वर्ष के उम्र के युवाओं को वैक्सीन लगाई जानी थी। दूसरी डोज लगवाने के लिए जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज पहुंचे कई लोगों के कार्ड पर दूसरा नंबर दर्ज था, जबकि पोर्टल पर दूसरा नंबर, इस वजह से उन्हेंं लौटा दिया गया। इसी तरह कई सेंटरों पर पहली डोज लगवाने के लिए बड़ी संख्या में लोग पहुंच गए, जिस वजह से अव्यवस्था हो गई। वैक्सीन भी विलंग से पहुंचने से अफरातफर की स्थिति रही। हैलट अस्पताल में 12.30 बजे वैक्सीन खत्म हो गई। इसी तरह नेहरू नगर में कोवैक्सीन लगवाने पहुंचे लोगों को रामबाग अर्बन पीएचसी भेज दिया गया। वहां वैक्सीनेशन कराने आए लोगों का फार्म भरने वाला कोई नहीं था। ऐसे में उन्हेंं खुद ही फार्म भरना पड़ा। स्वास्थ्य विभाग की ओर से वैक्सीनेशन का कोई आंकड़ा भी जारी नहीं किया गया है। इसी तरह 22 सेंटरों पर युवाओं का वैक्सीनेशन में भी अव्यवस्था रही। वैक्सीन विलंब से पहुंची, कहीं दस बजे तो कहीं 12 बजे, जिस वजह से हंगामा भी हुआ। अपर निदेशक डॉ. जीके मिश्रा का कहना है कि वैक्सीनेशन में अव्यवस्था को लेकर जवाब तलब करेंगे।

आज 45 सेंटर पर पहली और दूसरी डोज : अपर निदेशक चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण डॉ. जीके मिश्रा ने बताया कि 45 पार के उम्र के व्यक्तियों को शुक्रवार को कोरोना की पहली और दूसरी डोज 45 कोविड वैक्सीनेशन सेंटरों पर लगाई जाएगी। इसमें से नौ सेंटरों पर कोविशील्ड एवं 36 सेंटर पर कोवैक्सीन लगाई जाएगी।

युवाओं का 21 सेंटर पर वैक्सीनेशन : युवाओं को शुक्रवार को 21 कोविड वैक्सीनेशन सेंटर पर वैक्सीन लगाई जाएगी। प्रत्येक सेंटर पर 200 युवाओं को वैक्सीन लगेगी। उन्हेंं ऑनलाइन पंजीकरण कराना होगा।  

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप