कानपुर, जेएनएन। सचेंडी के भैरमपुर और उदयपुर गांव में आयुष्मान कार्ड बनवाने के बाद कई ग्र्रामीणों के खातों से रकम गायब हो गई। जिसकी जानकारी होने पर पीडि़तों ने सीएचसी पहुंचकर हंगामा किया और फिर भी सुनवाई न होने पर पुलिस से शिकायत की। पुलिस ने एक शख्स को उठाने के बाद जांच शुरू की है।

सीएचसी बिधनू की अधीनस्थ टीम ने 10 सितंबर को सचेंडी के भैरमपुर गांव और 11 सितंबर को उदयपुर गांव में आयुष्मान कार्ड बनवाने के लिए कैंप लगाया था। ग्र्रामीणों का आरोप है कि कार्ड बनने के बाद से भैरमपुर गांव निवासी बालादीन कुरील के खाते से तीन हजार रुपये, कुसमा के खाते से 10 हजार रुपये, खुशीलाल के 3,500 रुपये, रामकिशोर के 1,200 रुपये, ओमप्रकाश के 3,100 और उदयपुर गांव निवासी प्रेम कुमार के 500, अजय के 500, सुधा के 700 और मुस्कान के खाते से 500 रुपये गायब हो गए हैं।

मामले की जानकारी तब हुई, जब खाते से रकम निकलने का मैसेज आया। इस पर मंगलवार को ग्र्रामीणों ने कैंप लगाने वाले कर्मचारियों पर ही आरोप लगाते हुए बिधनू सीएचसी के अधीक्षक एसपी यादव से शिकायत की। सीएचसी अधीक्षक ने टीम लीडर नौबस्ता निवासी हंसपुरम निवासी अमित कुमार को बैंक जाकर शिकायतों का निस्तारण कराने के लिए कहा। बावजूद इसके बैंक में निस्तारण नहीं हो सका। तब ग्र्रामीणों ने सचेंडी थाने में तहरीर दी। थाना प्रभारी शेष नारायण पांडेय ने बताया कि ग्र्रामीणों की शिकायत पर टीम में शामिल एक शख्स से पूछताछ की जा रही है। साइबर सेल की मदद से भी मामले की जांच की जा रही है।

Posted By: Abhishek

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप