कानपुर, जागरण संवाददाता। छत्रपति शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय (सीएसजेएमयू) की हास्टल मेस में समय पर खाना न मिलने और खाने की गुणवत्ता खराब होने का आरोप लगाकर गुरुवार रात छात्रों ने जमकर हंगामा किया। हास्टल मेस से लेकर विश्वविद्यालय गेट तक जुलूस निकालकर उन्होंने नारेबाजी व धरना प्रदर्शन भी किया। चीफ प्राक्टर डा. प्रवीण कटियार समेत अन्य अधिकारियों ने जांच का भरोसा दिलाकर उन्हें शांत कराया।

हंगामा करने वाले ज्यादातर छात्र नए ब्वायज हास्टल के थे। उन्होंने बताया कि नए हास्टल में करीब 200 छात्र रह रहे हैं, जबकि पुराने हास्टल में 400 छात्र हैं। आरोप है कि पिछले कई दिनों से मेस इंचार्ज नए हास्टल के छात्रों को पुराने हास्टल में खाने के लिए बुला रहे हैं।

छात्रों का आरोप है कि अक्सर खाना कम पड़ जाता है। साथ ही खाने की गुणवत्ता भी ठीक नहीं है। गुरुवार रात बाटी खत्म हो गई थी और खीर भी पतली थी। आधा घंटा इंतजार करने के बाद भी बाटी नहीं बनी तो छात्रों ने हंगामा शुरू कर दिया। आरोप है कि इस पर मेस प्रभारी ने कार्यवाही की चेतावनी भी दी। तब छात्र भड़क गए और उन्होंने मेस से लेकर मुख्य गेट तक जुलूस निकालकर हंगामा किया और धरने पर बैठ गए।

चौकी प्रभारी ने भी आकर समझाने की कोशिश की, लेकिन छात्र नहीं माने। इसके बाद विश्वविद्यालय के अधिकारी पहुंचे। चीफ प्राक्टर डा. प्रवीण कटियार ने बताया कि छात्रों ने खाने के संबंध में शिकायत की है। जांच कराई जा रही है। कुलपति प्रो. विनय कुमार पाठक ने बताया कि शुक्रवार को छात्रों से बात की जाएगी। 

Edited By: Nitesh Mishra

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट