मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

कानपुर, जागरण संवाददाता। छत्रपति शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय की वार्षिक परीक्षा का परिणाम लोकसभा चुनाव से पहले जारी कर दिया जाएगा। विश्वविद्यालय प्रशासन ने स्नातक व स्नातकोत्तर का परीक्षा परिणाम 15 मई तक निकालने का लक्ष्य निर्धारित किया है। सत्र बीए, बीएससी, बीकॉम, एमए, एमएससी व एमकॉम की परीक्षा देने वाले आठ लाख परीक्षार्थियों का परिणाम समय पर जारी करने के लिए बाहरी परीक्षकों को भी मूल्यांकन के लिए बुलाया जा रहा है।
विज्ञान वर्ग की उत्तरपुस्तिकाओं के साथ मूल्यांकन कार्य शुरू हो चुका है। सीएसजेएमयू कुलसचिव डॉ. विनोद कुमार सिंह ने बताया कि अप्रैल माह के अंत तक मूल्यांकन खत्म कर लिया जाएगा। इसके लिए विषयवार शिक्षकों की सूची बनाई जा चुकी है। 15 मई तक सभी विषयों का परीक्षा परिणाम जारी करने का लक्ष्य है। वहीं दूसरी ओर विश्वविद्यालय से संबद्ध एक हजार से अधिक डिग्री कॉलेजों की उत्तरपुस्तिकाओं के मूल्यांकन के लिए 1200 से 1500 शिक्षकों की जरूरत होती है।
चार सौ से अधिक शिक्षक रोज करते हैं मूल्यांकन
मूल्यांकन कार्य समय पर खत्म करने के लिए रोजाना चार सौ से अधिक शिक्षकों की जरूरत होती है। ङ्क्षहदी, अंग्रेजी व समाजशास्त्र विषय में छात्र छात्राओं की संख्या अधिक होने के कारण एक परीक्षक को कई बार मूल्यांकन के लिए एक हजार से 1200 उत्तरपुस्तिकाएं तक दी जाती हैं। जबकि गणित, विज्ञान व कॉमर्स विषयों की औसतन चार सौ से पांच सौ उत्तरपुस्तिकाएं मूल्यांकन के लिए शिक्षकों को दी जाती हैं। 

Posted By: Abhishek

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप