कानपुर, जेएनएन। प्रदेश के लखनऊ, कानपुर समेत यूपी के कई शहरों में हालात दिन पर दिन खराब होते जा रहे हैं। इसे देखते हुए सरकार ने तीन दिन का लॉकडाउन लगा दिया है। गुरुवार की दोपहर यह सूचना लोगों तक पहुंची तो हर किसी की एक जैसी ही राय थी। पहले तो घर की जरूरी चीजें जुटा ली जाएं। इसके बाद जल्द ही प्रदेश में पूर्ण लॉकडाउन की आशंका भी लोगों ने व्यक्त की। खबर के साथ दो मामले इसी आशंका और जरूरी सामान की जद्दोजहद से जुड़े हुए हैं। जानकार बताते हैं कि हालात ठीक नहीं हैं। स्वास्थ मंत्रालय ने उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, दिल्ली, मुंबई, गुजरात समेत अन्य प्रदेशों के कई शहरों की सूची सरकार को दी है जिसमें उन शहरों की वास्तविकता की रिपोर्ट प्रस्तुत की गई है। ऐसे में शहरों की भयावह होती तस्वीर को बदलने के लिए सरकार संपूर्ण लॉकडाउन का निर्णय भी ले सकती है।

  • केस एक : टीवी पर समाचार देखते हुए गोविंद नगर के अरुण मिश्रा ने जोर से चिल्लाकर कहा, लो तीन दिन का लॉकडाउन हो गया है। आसार ठीक नहीं लगते। संपूर्ण लॉकडाउन न लग जाए। इस पर उनकी पत्नी बोली, सिलिंडर, आटा और हर जरूरी सामान की लिस्ट बना रही हूं। बाजार जाकर ले आइये।
  • केस दो : लालबंगला के विकास कटियार की पत्नी ने वाट्सअप पर मैसेज पढ़ते हुए कहा, यूपी में अब शुक्रवार की शाम से मंगलवार की सुबह सात बजे तक रहेगा लॉकडाउन। मोबाइल मैसेज पढऩे के साथ ही उन्होंने घर के जरूरी सामान भी

 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021