उन्नाव, जेएनएन। कानपुर सीमा से सटी गंगा कटरी क्षेत्र में उन्नाव से बैराज के रास्ते पर मगरमच्छ देखे जाने के बाद से दहशत बनी हुई है। रविवार रात को देखे गए मगरमच्छ को सड़क से कानपुर की ओर पहुंचने की आशंका से दहशत बनी हुई है। सोमवार को जानाकारी के बाद पुलिस ने गंगा बैराज मार्ग से कोहना, नवाबगंज व ग्वालटोली चौकी क्षेत्र तक मगरमच्छ की तलाश की है लेकिन कुछ पता नहीं चल रहा है। आसपास के क्षेत्र में रहने वाले लोग दहशत में हैं। 

गंगा बैराज मार्ग पर रविवार देर रात मगरमच्छ नजर आने के बाद से नेतुआ, कटरी पीपरखेड़ा समेत गंगाघाट कोतवाली व कानपुर सीमा से सटे थाना-चौकी क्षेत्रों में रहने वाले लोगों में खलबली है। कार सवार कुछ लोगों ने मगरमच्छ का वीडियो बनाकर वायरल कर दिया तो सोमवार को वन विभाग की टीम पूरा दिन गंगा बैराज मार्ग के आसपास के जगलों को खंगालती रही। उन्नाव से पहुंची टीम ने वन विभाग अधिकारियों को जानकारी दी और मगरमच्छ की तलाश में सहयोग किया।

उन्नाव डीएफओ का अतिरिक्त प्रभार देख रहे अनिरुद्ध पांडेय के अनुसार वायरल वीडियो गंगा बैराज मार्ग का है या कहीं और का, इसका प्रमाण अभी तक नहीं मिल सका है। सतर्कता बरतते हुए मगरमच्छ की तलाश को लेकर बैराज मार्ग पर टीम भेजी गई लेकिन कुछ पता नहीं चल सका है। वन अधिकारी वीके पांडेय, वनदरोगा श्रीकृष्ण दुबे व बीट प्रभारी सरोसी सतीश चंद्र बाजपेई ने बताया कि चार घंटे तक बैराज मार्ग के आस पास जंगलों को खंगाला गया। कोहना, नवाबगंज, ग्वालटोली चौकी क्षेत्र व गंगाघाट कोतवाली की बैराज चौकी क्षेत्र में जाकर लोगों से रात में नजर आए मगरमच्छ को लेकर जानकारी ली गई लेकिन कोई कुछ नहीं बता सका। वायरल वीडियो के आधार पर गंगा बैराज मार्ग के आसपास के क्षेत्रों में रह रहे लोगों को सजग किया गया है।

Edited By: Abhishek Agnihotri