कानपुर, जेएनएन। कोरोना काल में कांग्रेस हाईकमान से बांटने के लिए भेजी गई दवाओं की किट, सैनिटाइजर को लेकर तिलक हाल में कांग्रेसियों के बीच विवाद हो गया। कांग्रेसियों के एक पक्ष ने आरोप लगाया कि किसी को किट बांटी नहीें गई तो दूसरा पक्ष हंगामा करने लगा। नौबत हाथापाई तक पहुंच गई। हंगामा बढ़ा तो समीक्षा करने आए अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के राष्ट्रीय सचिव व उत्तर प्रदेश प्रभारी जुबैर अहमद खान व कानपुर के प्रभारी मनोज तिवारी बैठक छोड़ कर चले गए। 

कोरोना संक्रमितों के लिए कांग्रेस हाईकमान ने दवाओं की किट के साथ सैनिटाइजर भेजे थे। इनको वार्ड व ब्लाक स्तर पर बांटा जाना था। तिलकहाल में कांग्रेस ग्रामीण की समीक्षा बैठक के दौरान जब जुबैर अहमद खान ने सवाल पूछे तो एक वरिष्ठ कांग्रेसी ने आरोप लगा दिए कि न तो किट बांटी गई न ही सैनिटाइजर किसी को दिया गया। इस पर जुबैर अहमद खान ने जिन लोगों को किट व सैनिटाइजर दिए गए, उनके नाम, पते व मोबाइल नंबर की जानकारी चाही।

इसी बीच दूसरा पक्ष हंगामा करने लगा और आरोप लगाने वाले वरिष्ठ कांग्रेसी पर बाहर निकालने की बात करने लगा। हंगामा बढ़ा तो दोनों पक्ष आमने सामने आ गए। यह देख नाराज होकर राष्ट्रीय सचिव बैठक बीच में ही छोड़ कर चले गए। उधर हरिहरनाथ शास्त्री भवन में कानपुर उत्तर कांग्रेस की बैठक में राष्ट्रीय सचिव ने जब दवाओं व सैनिटाइजर की जानकारी ली तो बताया गया कि अभी बांटने की तैयारी की जा रही है।

Edited By: Abhishek Agnihotri