कानपुर, जेएनएन। काम करने का संकल्प लिया है तो फिर कोई बाधा आपको रोक नहीं सकती है फिर चाहे कोरोना का डंक ही क्यों न हो। शहर कांग्रेस कमेटी उत्तर के जिलाध्यक्ष भी कुछ ऐसा ही कर रहे हैं। काेविड संक्रमित होने के बावजूद वह प्रदेश कांग्रेस कमेटी से मिली दो जिम्मेदारियों का बखूबी निर्वहन कर रहे हैं। दरअसल, उत्तर जिलाध्यक्ष नौशाद आलम मंसूरी कोविड संक्रमित हो गए हैं। बावजूद इसके प्रदेश कांग्रेस कमेटी से होने वाली जूम मीटिंग का हिस्सा बनते हैं और शहर कांग्रेस कमेटी के नेतृत्व में चलने वाली प्रियंका रसोई और ऑक्सीजन बैंक का भी बखूबी संचालन कर रहे हैं। वह बताते हैं कि बीच में हालत काफी बिगड़ गई थी जिसके बाबत खुद को इस काम में लगा लिया। दिनभर इसी में व्यस्त रहते हैं तो कोविड की गंभीरता की चिंता नहीं होती है।

बीते सप्ताह प्रदेश कांग्रेस कमेटी की जूम एप पर हुई मीटिंग में कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका वाड्रा भी शामिल हुईं थीं। इस दौरान प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने जिलाध्यक्षों को कई जिम्मेदारियां दी गई थीं। सबसे बड़ी जिम्मेदारी कांग्रेस सेवा केंद्र बनाकर जरूरतमंदों की मदद करना था। इसी क्रम में भूखे तीमारदारों का पेट भरने के लिए उत्तर जिलाध्यक्ष ने अपनी ओर से प्रियंका रसोई की शुरूआत कर दी। फोन पर ही कार्यकर्ताओं से संपर्क साधकर उन्होंने रसोई का भी बखूबी संचालन किया। ऑक्सीजन बैंक की जिम्मेदारी उन्होंने नूर आलम मदनी और चांद समेत अन्य कार्यकर्ताओं को सौंपी है जो भरे सिलिंडर जरूरतमंदों तक पहुंचा रहे हैं।