जागरण संवाददाता, कानपुर : जन शिकायतों के निस्तारण को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा चालू की गई आइजीआरएस पोर्टल सेवा को शहर के जिम्मेदार अफसर पलीता लगा रहे है। आलम यह है कि कूड़ा उठाने की समस्या को लेकर फरियादी तीन बार शिकायत कर चुका है। शिकायत अधिकारियों के सिस्टम पर और कूड़े का ढेर ज्यों का त्यों अपनी जगह है।

- - - - - - - - -

नगर निगम में शिकायत के निस्तारण का हाल

शिकायत : कैलाश विहार आवास विकास कल्याणपुर निवासी डॉ. वीके दुबे ने बताया कि क्षेत्र में फैला कूड़ा उठाने के लिए नगर निगम स्थित कंट्रोल रूम के माध्यम से शिकायत दर्ज करा चुके है। एसएमएस के माध्यम से सेनेटरी इंस्पेक्टर राजेश यादव का नंबर दिया गया लेकिन समस्या का हल नहीं हुआ। पहली बार आठ अगस्त को शिकायत दर्ज कराई। इसके बाद 28 अगस्त और सात सितंबर को शिकायत दर्ज करा चुके है। सेनेटरी इंस्पेक्टर से बात की तो वह यह कहते है कि उनका तबादला हो गया है। केवल दिखावा नजर आता है।

- - - - - - - - -

क्या कहते हैं जिम्मेदार

सोमवार को टीम भेजकर कूड़ा उठाया जाएगा साथ ही शिकायत के बाद भी निस्तारण न करने वाले कर्मचारियों पर कार्रवाई की जाएगी।

- डॉ एके निरजंन, जोनल स्वास्थ्य अफसर, जोन छह

- - - - - - - - -

शिकायत : रतनलाल नगर निवासी विक्रम गोयल ने बताया कि बर्रा चार से शास्त्री चौक तक नाला चोक होने की शिकायत एक हफ्ते पहले की थी लेकिन निस्तारण के नाम पर कूड़ा हटाया गया है नाला अभी तक चोक है। सड़ांध के कारण सांस लेना मुश्किल हो जाता है।

- - - - - - - - -

क्या कहते हैं जिम्मेदार

नाले से कूड़ा हटाया गया था। बारिश के कारण नाला सफाई प्रभावित हुई है। टीम लगाकर नाला साफ कराया जाएगा। अभी भुगतान भी नहीं हुआ है।

- रमेश श्रीवास्तव, अधिशासी अभियंता जोन पांच

- - - - - - - - -

जलकल की ढिलाई से जनता परेशान, कहीं पेयजल तो कहीं रास्ते का संकट

जलकल विभाग की ढिलाई के चलते तिलक नगर की जनता पेयजल संकट से जूझ रही है। टूटी मुख्य पाइप लाइन ठीक करने के लिए 17 दिन पहले जलकल विभाग ने सड़क खोदी थी। अभी तक लीकेज नहीं ठीक किया है। इसके चलते वाहन निकालने में चालकों को परेशानी का सामना करना पड़ता है।

तिलक नगर में 23 अगस्त को लीकेज ठीक करने के लिए जलकल ने चौराहे पर खोदाई की थी और चारों तरफ बेरीकेडिंग लगा दी। भैंरोघाट पंपिंग स्टेशन से गंगा का पीने का पानी जलकल मुख्यालय बेनाझाबर भेजा जाता है। लीकेज होने के कारण काफी पानी रास्ते में ही बह जाता है। 17 दिन बाद भी जलकल विभाग लीकेज नहीं ठीक कर पाया है, गढ्डे में अभी तक पानी भरा हुआ है। जिससे सड़क और धंसने का खतरा हो गया है। जलकल अधिशासी अभियंता राजू भटनागर ने बताया कि लीकेज मिल गया है। बारिश का पानी भरा है। पानी निकालकर दो दिन में लीकेज ठीक करा दिया जाएगा। महापौर प्रमिला पांडेय ने बताया कि लापरवाही बरतने वाले अभियंताओं पर कार्रवाई की जाएगी।

- - - - - - - - -

यहां भी खोदाई बनी मुसीबत

-80 फीट रोड पर धंसा डाट नाला नगर निगम द्वारा ठीक कराया जा रहा है। आधा डाट नाला बन गया है, बाकी बचे नाले पर स्लैब डालने का काम किया जा रहा है। नाले के चारों तरफ बेतरतीब ढंग से लगी मिंट्टी मुसीबत बन गई है। बारिश के दौरान कीचड़ में बदल जाती है, इसके चलते पहले से संकरे रास्ते में वाहनों को निकलने के लिए जूझना पड़ता है।

- सर्वोदय नगर में लीकेज के कारण जलापूर्ति के समय क्षेत्र में पानी भरा रहता है। क्षेत्रीय लोगों ने बताया कि कई बार लीकेज हो चुका है। जल निगम की डाले पाइप से अभी तक क्षेत्र की जलापूर्ति नहीं हो पाई है।

- एक्सप्रेस रोड में धंसी सड़क पर मिंट्टी भर दी है लेकिन अभी तक सड़क को मोटरेबल नहीं किया गया है। इसके चलते रास्ता अभी भी प्रभावित है।

- - - - - - - - -

दर्शनपुरवा अंडरग्राउंड पार्किग के निर्माण पर सहमति

सेंट्रल पार्क दर्शनपुरवा में तीन सौ वाहनों के खड़े करने के लिए बनने वाली अंडरग्राउंड पार्किग के लिए रास्ता खुल गया है। श्रम विभाग ने अनापत्ति प्रमाण पत्र (एनओसी) में अपनी सहमति दे दी है।

सेंट्रल पार्क दर्शनपुरवा में पार्किग बन जाने से गुमटी बाजार, कौशलपुरी, दर्शनपुरवा में जाम की समस्या खत्म हो जाएगी। इसका निर्माण केडीए द्वारा कराया जा रहा है। इसके लिए पार्किग की बेहतर डिजाइन तैयार कराने के लिए केडीए ने आर्किटेक्ट्स के बीच प्रतिस्पर्धा कराई जा रही है। बेहतर डिजाइन तैयार करने वाले को निर्माण की जिम्मेदारी दी जाएगी।

केडीए उपाध्यक्ष सौम्या अग्रवाल ने बताया कि प्रतिस्पर्धा शुरू कर दी गई है। श्रम विभाग ने अपनी सहमति दे दी है। समझौते के तहत दोनों विभागों के बीच में कागजी कार्रवाई अभी होनी बाकी है।

- - - - - - - - -

इसके बनने से मिलेगा लाभ

अभी गुमटी बाजार में डिवाइडर से लगाकर वाहन खड़े किए जाते है इसके चलते जाम लगा रहता है। इस पार्किग के निर्माण से गुमटी बाजार, दर्शनपुरवा व कौशलपुरी के लोगों को जाम से निजात मिलेगी और बाजार में खरीदारों की संख्या बढ़ेगी।

- - - - - - - - -

यहां भी तैयार हो पार्किग

फूलबाग में केडीए 650 वाहनों के खड़े करने के लिए पार्किग का निर्माण करा रहा है।

- - - - - - - - -

यहां बन चुकी पार्किग

-कैनाल पटरी में 119 वाहनों के खड़े करने की पार्किग जनता के लिए खोल दी गई है।

-क्रिस्टल परेड में 445 वाहनों के खड़े करने के लिए पार्किग का निर्माण हो गया है जल्द जनता के लिए लाइन खोल दी जाएगी।

- - - - - - - - -

कांजी हाउसों में नगर आयुक्त को मिली गंदगी व कब्जे

आवारा जानवरों के खिलाफ दैनिक जागरण द्वारा चलाए जा रहे अभियान पर नगर निगम के अफसरों की नींद टूटी है। नगर आयुक्त ने रविवार को शहर में बने कांजी हाउसों का निरीक्षण किया। इस दौरान फैली गंदगी व उखड़ा प्लास्टर मिला। साथ ही जमीन पर कब्जे होने पर नगर आयुक्त ने पशु चिकित्साधिकारी को फटकार लगाई और आदेश दिए कि सभी कांजी हाउस दुरुस्त कराए जाएं।

दैनिक जागरण लगातार आवारा जानवरों के खिलाफ अभियान चला रहा है। इसके बाद नगर निगम जागा है। महापौर प्रमिला पांडेय ने 15 सितंबर से अभियान चलाने के आदेश दिए हैं। वहीं नगर आयुक्त संतोष कुमार शर्मा ने निरीक्षण शुरू कर दिया है। रविवार को वे सबसे पहले कांजी हाउस दर्शनपुरवा पहुंचे। यहां एक ही कर्मचारी मौके पर मिला। दो सूअर बंद थे। सौ सूअर बंद करने की क्षमता है। उन्होंने जगह-जगह फैली गंदगी साफ कराने के आदेश दिए। उखड़ा प्लास्टर ठीक कराया जाए। इसके बाद वह डिप्टी पड़ाव में स्थित कांजी हाउस पहुंचे। यहां पर नगर निगम की जमीन पर लोगों ने कब्जा कर रखा था। इसको खाली कराने के आदेश अफसरों को दिए। यही हाल फूलबाग स्थित काजी हाउस का था यहां भी गंदगी फैली पड़ी थी। जाजमऊ में स्थित कान्हा गौशाला में 128 गाय मिली। यहां भी गंदगी मिलने पर कर्मचारियों को फटकार लगाई।

Posted By: Jagran