मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जागरण संवाददाता, कानपुर : एसएसपी अखिलेश कुमार के आदेश पर शुक्रवार रात शहर के चिह्नित लूट प्वाइंट के पास आपरेशन आलआउट के तहत बैरीकेडिंग लगा सघन चेकिंग अभियान चलाया गया। इसमें पुलिस ने 13 संदिग्ध युवकों को पकड़ा। एसएसपी ने खुद घंटाघर पहुंच कोपरगंज, बिरहाना रोड, एक्सप्रेस रोड व जनरलगंज इलाके में पुलिस बल संग गश्त की और लोगों व व्यापारियों से बात कर जायजा लिया। इसके बाद नगर आयुक्त से फोन पर बात कर लूट प्वाइंट और घंटाघर के आसपास मार्ग प्रकाश का प्रबंध कराने की बात कही।

उन्होंने बताया कि घंटाघर के आसपास अपराधी लूट के बाद अंधेरा व अतिक्रमण का फायदा उठाकर भाग निकलते है। इसके चलते घंटाघर के आसपास चिह्नित स्थानों पर लाइट की व्यवस्था के साथ अतिक्रमण हटाने के लिए नगर निगम संग अभियान चलाया जाएगा। कलक्टरगंज इलाके को पुराने स्वरूप में लाने के लिए बरामदा खाली कराने के साथ ही दुकान के सामने फुटपाथ कब्जा करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। वहीं दोबारा कब्जा करने पर जेल भेजा जाएगा। दूसरी तरफ घंटाघर में आपरेशन आलआउट के दौरान एसएसपी ने एसपी पूर्वी अनुराग आर्य और कोतवाली सीओ अजय सिंह के साथ बैरीकेडिंग लगाकर चार पहिया व दो पहिया वाहनों के साथ शराब ठेकों, होटल व लाज में चेकिंग कराई। अभियान में 980 वाहनों को चेक कर 80 का चालान किया गया।

एसएसपी ने चौकी में किया औचक निरीक्षण : दक्षिण में बढ़ती लूटपाट की घटनाओं को देखते हुए एसएसपी अखिलेश कुमार ने साउथ सिटी का औचक निरीक्षण किया। किदवईनगर पुलिस चौकी के साथ पराग डेरी, साकेतनगर और बर्रा आदि इलाके का निरीक्षण किया। उन्होंने एसपी साउथ से क्षेत्र में पुलिस फोर्स के गश्त पर खुद रहने और उसकी मानीट¨रग करने के दिशा निर्देश दिए।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप