मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

फतेहपुर, जेएनएन। मलवां थाने के उमरगहना गांव में पॉलीटेक्निक में पढऩे वाले चौकीदार के बेटे की हत्या कर शव पेड़ से लटका दिया गया। घटना की जानकारी होते ही गांव में सनसनी फैल गई और वजह को लेकर ग्रामीणों में तरह तरह की बातें शुरू हो गईं। फिलहाल पुलिस ने घटना की छानबीन शुरू करते हुए पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद हत्या की पुष्टि होने की बात कही है। लेकिन मौके पर खून की छीटें और घसीटने के निशान हत्या की ओर इशारा कर रहे हैं।

पॉलीटेक्निक का छात्र था अंकित

मलवां थाने के उमरगहना गांव निवासी बोधा सोनकर गांव के चौकीदार है। तीन पुत्रों में उनका सबसे छोटा बेटा अंकित सोनकर उर्फ गोरे पॉलीटेक्निक का छात्र था। वह शनिवार की शाम खेतों की ओर गया था लेकिन देर रात घर नहीं लौटा। परिजनों ने काफी खोजबीन की लेकिन उसका कहीं पता नहीं चला।

खेतों पर गए ग्रामीण रह गए सन्न

रविवार की सुबह गांव के लोग खेतों की ओर गए तो सन्न रह गए। बबूल के पेड़ पर अंकित का शव फांसी के फंदे पर लटक रहा था। सूचना पर पहुंचे परिजनों ने शव की शिनाख्त की। चौकीदार पिता ने बताया अंकित के चेहरे पर चोट के निशान मिले हैं। मौके पर उसे घसीटने के निशान व खून की छीटें मिली हैं। बेटे की हत्या करने के बाद आत्महत्या का रूप देने के लिए शव को पेड़ पर लटका दिया गया है। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर ग्रामीणों से पूछताछ की।

प्रेम प्रसंग की भी चर्चा

घटना के बाद गांव में प्रेम प्रसंग के चलते वारदात की चर्चा रही। यह भी बातें होती रहीं कि अंतरजातीय प्रेम संबंधों के चलते युवक की हत्या हुई है। थाना प्रभारी नरेंद्र प्रताप सिंह का कहना है कि सभी बिंदुओं पर छानबीन कराई जा रही है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद बाद ही घटना हत्या है या आत्महत्या की पुष्टि हो पाएगी।

Posted By: Abhishek

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप