जागरण संवाददाता, लखनऊ : हरकोर्ट बटलर टेक्निकल यूनिवर्सिटी (एचबीटीयू) में अब बीटेक ऑनर्स का कोर्स शुरू किया जाएगा। यह फैसला मंगलवार को लखनऊ में इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनिय¨रग एंड टेक्नोलॉजी (आइईटी) के सभागार में आयोजित कार्यपरिषद की बैठक में लिया गया। अब विद्यार्थियों को संपूर्ण सिलेबस का 20 फीसद हिस्सा ऑनलाइन पढ़ने की छूट दी जाएगी। वह अपने इलेक्टिव कोर्स की पढ़ाई ऑनलाइन मैसिव कोर्स (मूक्स) के माध्यम से कर सकेंगे। वहीं इनोवेशन को भी बढ़ावा देने का फैसला किया गया। विद्यार्थियों को इनोवेटिव प्रोजेक्ट तैयार करने के लिए 50 हजार रुपये की मदद मिलेगी। वहीं शिक्षकों को रिसर्च करने के लिए एक लाख की मदद यूनिवर्सिटी देगी।

एचबीटीयू के कुलपति प्रो. एनबी सिंह ने बताया कि यूनिवर्सिटी आगे बीटेक ऑनर्स की भी डिग्री देगी। अभी विद्यार्थियों को बीटेक में चार वर्ष में कुल 172 क्रेडिट की पढ़ाई करवाई जाती है। इसके अलावा जो विद्यार्थी मूक्स के माध्यम से ऑनलाइन 192 क्रेडिट या इससे अधिक की पढ़ाई करेगा तो उसे ऑनर्स की डिग्री दी जाएगी। देश भर में आइआइटी व एनआइटी में दाखिले के लिए आयोजित की गई जेईई मेन्स की मेरिट से ही एचबीटीयू में दाखिला दिया जाएगा। प्रो. एनबी सिंह ने बताया कि वर्ष 2018-19 के बजट पर भी कार्यपरिषद ने अपनी मुहर लगाई। राष्ट्रीय उच्च शिक्षा अभियान (रूसा) के तहत यूनिवर्सिटी को कुल 55 करोड़ रुपये की धनराशि मिली है। पहली किस्त के तौर पर 13.40 करोड़ रुपये से निर्माण व अनुरक्षण का कार्य किया जाएगा। वहीं अगले वर्ष प्रयोगशालाओं के लिए उपकरण खरीदे जाएंगे। यूनिवर्सिटी में चल रही विभिन्न योजनाओं को समय पर पूरा करने पर भी चर्चा की गई।

--------------------------

सहायक प्रोफेसर पद के लिए ये मानक पूरे करने होंगे :

- 40 अंक एकेडमिक रिकॉ‌र्ड्स के लिए

- 10 अंक रिसर्च परफार्मेस के लिए

- 30 अंकों की लिखित परीक्षा देनी होगी

- 20 अंक साक्षात्कार के लिए होंगे

--------------------------

एसोसिएट व प्रोफेसर पद के लिए ये मानक पूरे करने होंगे:

- 40 अंक रिसर्च परफार्मेस के लिए

- 20 अंक एकेडमिक रिकॉ‌र्ड्स के लिए

- 20 अंक असेसमेंट ऑफ डोमेन नॉलेज के लिए

- 20 अंक साक्षात्कार के होंगे

--------------------------

इन मुद्दों पर भी हुई चर्चा:

- चतुर्थ श्रेणी कर्मियों के पेंशन संबंधी मामलों पर

- शिक्षकों की भर्ती संबंधी नियमों पर अंतिम मुहर लगी, एआईसीटीई के मानकों के मुताबिक भर्ती कराने पर विचार

--------------------------

एक्ट में मौजूद कमियों को सुधारेगी कमेटी: एचबीटीयू के एक्ट में सुधार के लिए कमेटी का गठन किया गया। जिसका संयोजक एचबीटीयू के मीडिया प्रभारी प्रो. मनोज शुक्ला को बनाया गया। वह एक माह में अपनी रिपोर्ट शासन को सौंपेंगे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस