उरई, जेएनएन। सिरसा कलार थाना क्षेत्र के ग्राम सिकन्ना में सोमवार की रात पुत्र ने पिता की कुल्हाड़ी से काटकर हत्या कर दी। हत्या का कारण सिर्फ इतना था कि पिता अलग रह रहे बड़े बेटे के यहां वह खाना खाने चला गया था। वारदात की जानकारी मिलने के बाद स्थानीय पुलिस मौके पर पहुंची, लेकिन तब तक आरोपित भाग चुका था। पुलिस उसकी तलाश कर रही है।

ये है पूरा मामला: ग्राम सिकन्ना निवासी 59 वर्षीय संतराम सारनाथ में रहकर खिलौने बेचने का काम करता था। कोरोना का प्रकोप बढ़ने से धंधा कम हो गया था तो वह गांव लौट आया था। उसके दो बेटे हैं तो कि अलग-अलग रहते हैं। जबकि छोटा बेटा अरविंद मां के साथ रहता था। पिता सोमवार की रात अपने बड़े बेटे गोविंद के घर पर खाना खाने चला गया। पिता के लौटकर आने के बाद अरविंद को जब इसका पता चला तो वह पिता से झगड़ पड़ा। बाद में बात बढ़ती चली गई। बताया जाता है कि इसके बाद तैश में आकर अरविंद ने कुल्हाड़ी उठाकर पिता के ऊपर ताबड़तोड़ वार कर दिए। जिससे पिता की मौके पर ही मौत हो गई । घटना के बाद घर में चीख पुकार मच गई। ग्रामीणों द्वारा सूचना दिए जाने के बाद स्थानीय पुलिस मौके पर पहुंच गई, लेकिन आरोपित तब तक भाग चुका था । पुत्र द्वारा पिता की हत्या किए जाने की घटना जिसने भी सुनी वह सन्न रह गया। 

इनका ये है कहना: सिरसा कलार थाना के प्रभारी निरीक्षक अशोक कुमार वर्मा का कहना है बड़े भाई गोविंद की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। आरोपित की तलाश के लिए दबिश संदिग्ध ठिकानों पर दबिश दी जा रही है।

Edited By: Shaswat Gupta