कानपुर, जेएनएन। शिवराजपुर थाना क्षेत्र के सखरेज गांव में रविवार की शाम समझौते के लिए घर बुलाकर वृद्ध की बेरहमी से हत्या कर दी गई। सुबह वारदात की जानकारी होती गांव में सनसनी फैल गई। हमलावरों ने दो बीघा जमीन के विवाद में घटना को अंजाम दिया है। पुलिस ने बेटे की तहरीर पर परिवार के चार लोगों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज करके आरोपितों की तलाश शुरू की है।

शिवराजपुर थाना क्षेत्र के ग्राम सखरेज निवासी 72 वर्षीय जगरूप सिंह का चचेरे भतीजे राजेंद्र सिंह से 2 बीघा जमीन पर कब्जे दारी को लेकर काफी समय से विवाद चल रहा था। रविवार की शाम को पड़ोस में रहने वाले राजेंद्र सिंह ने जगरूप सिंह को समझौते के लिए घर बुलाया था। जहां बात विवाद के दौरान राजेंद्र व घरवालो ने वृद्ध जगरूप को पीटना शुरू कर दिया। शोर मचने पर पहुंचे जगरूप के घर वाले मरणासन्न हालत में उन्हें लेकर अस्पताल गए। इस बीच रास्ते में ही उनकी मौत हो गई। देर रात मामले की सूचना पर गांव पहुंची पुलिस ने छानबीन की।

अखिलेश ने बताया की परिवार के राजेंद्र सिंह से उन लोगों का जमीन विवाद चल रहा है। रविवार की शाम राजेंद्र सिंह व उनके पुत्र अनुपम, पत्नी सरला तथा पुत्री श्वेता ने पिता को समझौते के लिए घर बुलाया था। जहां एक राय होकर पिता पर जानलेवा हमला कर दिया। गला दबाकर पिटाई से उन्हें गंभीर चोटें आईं और अस्पताल ले जाते समय रास्ते में ही मौत हो गई। एसओ कौशलेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि जमीनी विवाद में मारपीट के दौरान वृद्ध की मौत हुई है। मामले में दो महिलाओं समेत चार लोगों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है।