फतेहपुर, जेएनएन। रक्षाबंधन के दिन यमुना नदी पार करते वक्त बीच धारा में पहुंचकर संतुलन बिगडऩे से नाव पलट गई। इससे महिला समेत दो लोग डूब गए, जबकि नाविक समेत छह लोग किसी तरह तैरकर बाहर आ गए। नाव में 8 लोग सवार थे। डूबे महिला व अधेड़ का अभी तक पता नहीं चल पाया है।
 हमीरपुर के थाना सुमेरपुर भरुआ के सुरौली यमुना घाट से इस पार फतेहपुर के धाना घाट आने के लिए गुरुवार दोपहर करीब 12 बजे नाव में बैठकर नाविक समेत 8 लोग आ रहे थे। नाव बीच धारा में पहुंची तभी बहाव तेज होने से संतुलन बिगड़ गया, जिससे नाव गहरे पानी में आकर पलट गई। नाव में सवार सभी लोग पानी में डूबने लगे। हालांकि नाविक सहित छह लोग किसी तरह तैरकर नदी से बाहर निकल आए पर हमीरपुर के भरुआ सुमेरपुर निवासी 25 वर्षीय निशा देवी पत्नी धरमू निषाद व चांदपुर थाने के धाना गांव निवासी 53 वर्षीय जगन्नाथ नदी में डूब गए।
सूचना पर पहुंची पुलिस ने गोताखोरों को बुलाकर नदी में उतारा, हालांकि दोनों का कोई पता नहीं चल पाया। दोनों को खोजने के लिए दूसरे दिन शुक्रवार सुबह कानपुर से एनडीआरएफ की टीम पहुंची। टीम नदी में दोनों को खोजने में जुटी है पर अभी तक सफलता नहीं मिली है। चांदपुर थाना प्रभारी राजीव कुमार ने बताया नाव में नाविक समेत 8 लोग सवार थे। नाव पलटने से महिला व अधेड़ डूब गए हैं। गोताखोरों को उतार कर दोनों को खोजने का प्रयास किया जा रहा है।
हमीरपुर में राजगीर का काम कर रहा था जगन्नाथ
धाना गांव निवासी जनन्नाथ हमीरपुर में राजगीर का काम कर रहा था। रक्षा बंधन के त्योहार पर घर आ रहा था। वहीं निशा अपने मायके धाना गांव ससुराल सुरौली से आ रही थी।  

Posted By: Abhishek