कानपुर, जागरण संवाददाता। कानपुर की किदवई नगर विधानसभा सीट से भाजपा विधायक एवं प्रत्याशी महेश त्रिवेदी अपने बिगड़े बोल से फिर सुर्खियों में आ गए हैं। उनका एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें वह विरोधियों को धमकी देते हुए कार्यकर्ताओं को उकसा रहे हैं। वह कार्यकर्ताओं से कह रहे हैं कि बस गोली नहीं मारना, बाकी सब देख लेंगे। इस दरमियान बैठक में शहर भाजपा के कई वरिष्ठ नेता भी मौजूद हैं। विधायक का विवादित बयान का वीडियो नामांकन प्रक्रिया शुरू होते ही वायरल हुआ है। हालांकि जागरण डॉट काम वायरल वीडियो की पुष्टि नहीं करता। वीडियो एक चुनावी बैठक का है, जिसमें विधायक के भाषण को कार्यकर्ता ने ही बनाया। यह भी बताया जा रहा है कि बैठक का फेसबुक लाइव भी चल रहा था।

किदवई नगर सीट से भाजपा विधायक एवं प्रत्याशी महेश त्रिवेदी ने चुनावी बैठक में माइक पर कार्यकर्ताओं का आह्वान किया और कहा- इस बार जो आतताई लोग है, एकतरफा बात करने वाले लोग हैं। जो ताकत का दुरुपयोग करने वाले लोग है। उन्हें लाठी, डंडे, चप्पलों से मारो, बस गोली ना मारना। बाकी सब हम देखेंगे। खुले मंच से वह विरोधियों को धमकाते और कार्यकर्ताओं को मारपीट के लिए उकसाते नजर आ रहे हैं। वीडियो में वह कह रहे हैं कि विरोधियों को खासकर जो यहां कांग्रेस है, उसे खत्म करने के लिए हम लोग कदम बढाएं। आप चिंता ना करें हम, हमारी फौज, विचारधारा, संगठन साथ में है, बस गोली ना मारना और हर तरह से हम देखेंगे। अपने भाषण में उन्होंने दो बार बस गोली ना मारना का उल्लेख किया। बैठक में मौजूद पार्टी के पदाधिकारी और कार्यकर्ता उत्साह से तालियां भी बजा रहे हैं। इस वीडियो में उनके साथ भाजपा दक्षिण जिलाध्यक्ष डा. वीना आर्या, पूर्व जिलाध्यक्ष रामदेव भी नजर आ रहे हैं।

प्रकरण में भाजपा कानपुर बुंदेलखंड क्षेत्र के अध्यक्ष मानवेंद्र सिंह का कहना है कि ऐसा वीडियो उन्होंने अभी देखा नहीं है। वहीं दक्षिण जिलाध्यक्ष डा वीना आर्या ने कहा कि उन्हें याद नहीं आ रहा है कि ऐसी बात कहां कही गई। 

बोले विधायक : वायरल वीडियो को अपना ही बताते हुए विधायक महेश त्रिवेदी ने कहा कि जो आतताई लोग हैं जो एक तरफा बात करने वाले लोग हैं जो भय को बढ़ाने वाले लोग हैं अगर हमारा कार्यकर्ता उनको अनुशासन को लेकर खड़ा हो जाए और अगर डंडा भी लेकर खड़ा हो जाए तो हम उनके साथ हैं। यह मैने कहा है। उन्होंने बात दोहराते हुए कहा महेश त्रिवेदी कभी पलटते नहीं है। कि आतताइयों को ठीक करने के लिए अगर हमार समर्थक डंडा भी इस्तेमाल करेगा, चप्पल भी इस्तेमाल करेगा, जूता भी इस्तेमाल करेगा तो हम अपने कार्यकर्ता के लिए लड़ेंगे और मरेंगे।

Edited By: Abhishek Agnihotri