कानपुर, जेएनएन। यूपी में मास्क न लगाने पर चालान को लेकर मई माह में दूसरे नंबर पर रहे कानपुर का नाम एक बार फिर सबसे बड़ा जुर्माना वसूलकर प्रदेश स्तर पर चर्चा में आ गया है। अबतक यूपी में सबसे बड़ा चालान करने वाला कानपुर पहला शहर बन गया है। यहां पर घाटमपुर में यूपी पुलिस के ही एक जेई पर मास्क न लगाने पर जुर्माना किया गया है, वह बिना मास्क दूसरी बार पकड़े गए थे।

चालान करने में दूसरे नंबर पर रहा था कानपुर

उत्तर प्रदेश में बिना मास्क चालान करने के आंकड़ों को देखा जाए तो मई माह में कानपुर दूसरे नंबर पर था, जबकि वसूली में सातवें स्थान पर रहा था। कोरोना संक्रमण को लेकर शहर में लगातार सख्ती बरती जा रही है। कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर में 28 मई तक कानपुर में बिना मास्क के 3.12 लाख चालान किए गए और 1.73 करोड़ रुपये जुर्माना वसूला गया था। इसमें वाराणसी में 3.21 लाख चालान करके पहले नंबर पर रहा था। वहीं जुर्माना वसूली में 6.35 करोड़ के साथ बरेली पहले स्थान पर था। इसमें लखनऊ 3.75 करोड़ रुपये वसूलकर दूसरे और प्रयागराज 3.12 करोड़ वसूल कर तीसरे नंबर पर था। कानपुर का प्रदेश में सातवां नंबर था।

बिना मास्क पकड़े गए पुलिस आवास निगम लिमिटेड के जेई

मास्क न लगाने पर उत्तर प्रदेश पुलिस आवास निगम लिमिटेड के अवर अभियंता आरके शर्मा का 10 हजार रुपये का चालान काट दिया गया। एडीजी शनिवार को साढ़ थाने का निरीक्षण करने पहुंचे थे, इस दौरान उन्होंने थाने की निर्माणाधीन बिल्डिंग भी देखी थी। निरीक्षण के समय जेई आरके शर्मा भी मौजूद थे। उन्होंने मास्क नहीं लगा रखा था, इस पर एडीजी ने जेई को फटकार लगाते हुए जुर्माना काटने का आदेश दे दिया। साढ़ एसओ संतोष सिंह के मुताबिक जेई आरके शर्मा मास्क न लगाने के चलते दूसरी बार पकड़े गए हैं। इसके चलते 10 हजार रुपये का चालान काटा गया है। पुलिस विभाग की मानें तो प्रदेश में बिना मास्क का अबतक यह सबसे बड़ा चालान है।

Edited By: Abhishek Agnihotri