कन्नौज, जागरण संवाददाता। चालक को झपकी आने से स्लीपर बस अनियंत्रित होकर डिवाइडर से टकरा कर पलट गई। हादसे में 38 यात्री घायल हो गए। इसमें से पांच यात्रियों को गंभीर हालत होने पर मेडिकल कालेज में भर्ती कराया गया है। बस बिहार से दिल्ली जा रही थी। हादसा शनिवार सुबह पांच बजे हुआ।

आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर तिर्वा कोतवाली के पचोर गांव के सामने बिहार से दिल्ली जा रही स्लीपर बस अनियंत्रित होकर डिवाइडर से टकराकर पलट गई। बस में 65 यात्री सवार थे। इसमें से 38 यात्रियों को चोटें आई। बिहार के अररिया जिले के मलासी, छपनिया निवासी 19 वर्षीय धीरज कुमार पुत्र भगवान चौधरी, मदनपुर के सहलागर निवासी 18 वर्षीय मुश्ब्बीर पुत्र अनवार, बोबी गांव निवासी 30 वर्षीय मो. रब्बानी पुत्र मोहम्मद ग्यास, जोकिरहर, साकिल परवानपुर निवासी 30 वर्षीय रोहित, दरभंगा जिला के खिदिमा, जलबाड़ा निवासी 18 वर्षीय संजीत को गंभीर चोटें आईं। यूपीडा कर्मियों ने इन घायलों को मेडिकल कालेज में भर्ती कराया है। साथ ही क्रेन से दुर्घटनाग्रस्त बस को एक्सप्रेस-वे के किनारे कराया। मेडिकल कालेज में घायलों की हालत में सुधार होने पर छुट्टी कर दी गई है। कोतवाली प्रभारी निरीक्षक नरेंद्र सिंह ने यात्रियों से बातचीत की। दूसरी बस से यात्रियों को दिल्ली भेज दिया गया है। चालक का पता नहीं चल सका है। यात्रियों के मुताबिक आगरा को पार करने के बाद रेस्ट एरिया में बस कुछ देर तक रुकी रही। तड़के करीब 3.30 बजे चालक बस लेकर चल दिया। यूपीड़ा कर्मियों ने बताया हादसा चालक को नींद आने के कारण हुआ है।

Edited By: Abhishek Agnihotri