कानपुर, जेएनएन। अक्सर गर्भवती महिलाएं सेहत को लेकर अधिक फिक्रमंद हो जाती हैं। खान-पान कैसा हो और दिनचर्या कैसी हो, इसे लेकर डॉक्टरों से परामर्श भी लेती हैं। ऐसे में डॉक्टर भी खान पान के साथ एक्सरसाइज करते रहने की सलाह देते हैं। इसके लिए ज्यादातर महिलाएं योग के आसन पर जोर देते हैं। योगाचार्य की मानें तो बधकोणासन गर्भवती महिलाओं के लिए रामबाण होता है, आइए जानते हैं कि इस आसन के क्या क्या फायदे होते हैं।

योग सप्ताह में पाएं टिप्स

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 21 जून के अवसर को देखते हुए दैनिक जागरण द्वारा योग सप्ताह का आयोजन किया जा रहा है। संक्रमण के चलते ऑनलाइन होने वाले आयोजन के जरिए लोगों को योग के महत्व से परिचित कराया जा रहा है। दैनिक जागरण और गायत्री परिवार द्वारा योग सप्ताह में वरिष्ठ योगाचार्य सोनाली धनवानी ने गर्भवती महिलाओं के लिए लाभकारी बधकोणासन के लाभ बताएं। यह आसन गर्भवती महिलाओं के लिए रामबाण है। उन्होंने आनलाइन माध्यम से योग के लाभ और महत्व बताकर अधिक से अधिक लोगों को योग से जुडऩे की सलाह दी।

इस तरह कार्यक्रम से जुड़ें

21 जून तक चलने वाले इस कार्यक्रम का उद्देश्य अधिक से अधिक युवाओं को योग से जोडऩा है। दैनिक जागरण द्वारा योग से निरोगी रहने की पहल में शामिल होने वाले लोग स्वयं और परिवार की योग करते हुए फोटो दैनिक जागरण को7311192976 नंबर पर वाट्सअप कर सकते हैं। कुछ चुनिंदा प्रविष्टियों को मिलेगा मौका दैनिक जागरण के सोशल मीडिया पेज पर आने का।

बधकोणासन के फायदे

-यह आसन छाती को खोलने में मदद करता है, जो गर्भावस्था में शरीर के सामने अतिरिक्त वजन के कारण ढह सकती है।

-यह मुद्रा पूरी तरह से समर्थित महसूस करते हुए शरीर में ग्रहणशीलता की भावना को बढ़ावा देती है।

-यह कूल्हों और श्रोणि को खोलने में भी मदद करती है।

- सामान्य प्रसव में मददगार होता है।

-मेरुदंड को लचीला बनाने में मददगार होता है।