कानपुर देहात, जेएनएन। फूलन देवी के साथ यहां के बेहमई गांव में जुल्म किया गया था। इस जुल्म के कारण ही उनका विद्रोही स्वरूप सभी को देखने को मिला। उन्होंने हमेशा अपने समाज के लिए संघर्ष किया। यह बातें निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डा. संजय निषाद ने यहां कहीं। उन्होंने आरोप लगाया कि फूलन देवी की संपत्ति को सपा मुखिया के संरक्षण प्राप्त कैलाश चौरसिया ने हड़प लिया। इससे उनकी मां आज आर्थिक हालात से जूझ रहीं हैं।

सरकार बनाओ अधिकार पाओ रैली की तैयारियों के लिए जिले में संकल्प समाज उत्थान आरक्षण यात्रा के तहत पहुंचे डा. संजय निषाद ने कहा कि हमारे दल के गठन का मतलब ही शोषित व निर्बलों की मदद व उनके मुद्दों पर संघर्ष करने के लिए किया गया है। इसके साथ ही हमारी रैली सहयोगी भाजपा को यह याद दिलाने के लिए है कि हमारे समाज का आरक्षण, रोजी रोटी, कार्यकर्ताओं व समाज के लोगों के ऊपर दर्ज राजनीतिक मुकदमों की वापसी की जाए। सूबे में 18 फीसद से अधिक हमारे समाज के लोगों ने अब सपा, बसपा व कांग्रेस को चुनना बंद कर दिया है। आज तीनों पार्टियों की क्या हालत हो गई है यह सभी को पता है। लखनऊ में 15 अक्टूबर को होनी वाली रैली में हम तय करेंगे कि आखिर हमारी मांगों के पूरा किए जाने की समय सीमा क्या है।

Edited By: Shaswat Gupta