कानपुर, जेएनएन। कानपुर- इटावा हाईवे पर सफर करने वाले लोगों के लिए यह खबर बहुत जरूरी है। हाईवे पर इन दिनों आंख-मिचौली का खेल चल रहा है। कहीं लाइट जल रही तो कहीं बिल्कुल अंधेरा छाया हुआ है। जनप्रतिनिधियों ने इस बात को लेकर राष्ट्रीय राजमार्ग मंत्रालय में शिकायत भी दर्ज कराई है।

कानपुर-इटावा हाईवे में रामदेवी के पास लाइट अक्सर बंद रहती है। यहां अगर किसी वाहन में लाइट कम हुई तो वह हाईवे पर भी 20 और 30 कि स्पीड में वाहन चलते हैं। इसके साथ ही दूसरी समस्या नौबस्ता से गुजैनी के बीच में है। पनकी गैस प्लांट अंडरपास के गार्डर टूटने की वजह से वाहन सवारों को गुजैनी से डायवर्जन किया। सर्विस रोड होते हुए वाहन झांसी की तरफ जा रहे हैं। इसी बीच पनकी के पास बिजली के पोल टूट गए हैं। इसमें लाइट जलती नहीं है। ऐसे में कोई भी बड़ा हादसा हो सकता है। इस पर आशंका जताते हुए एनएचएआइ को विधायक सुरेंद्र मैथानी ने पत्र लिखा है। उन्होंने मांग की है कि मेंटिनेंस एजेंसी पर जुर्माना या फिर अन्य कोई कार्रवाई की जाये।

फुट ओवरब्रिज में भी लाइट की दरकार: तात्याटोपे नगर में बने फुट ओवर ब्रिज में अंधेरा छाया रहता है। रात में लोग इस पर जाने से कतराते भी हैं। इस पुल की छत में शाम होते ही नशेबाजों का जमावड़ा लगा रहता है। इस वजह से शाम को महिलाएं यहां से निकलने से कतराती हैं।

Edited By: Shaswat Gupta