जागरण संवाददाता कानपुर दक्षिण : बर्रा में भौंती-रूमा फ्लाईओवर पर तेज रफ्तार ट्रेलर के ओवरटेक करने के दौरान पेट्रोल से भरा टैंकर अनियंत्रित होकर पलट गया। इससे पेट्रोल सड़क पर बहने लगा। सूचना पर पहुंची पुलिस व दमकल कर्मियों ने एक लेन का आवागमन रोका और टैंकर का शीशा तोड़कर चालक व खलासी को बाहर निकाला। दोपहर में हुए हादसे के बाद हाईवे पर रात तक जाम लगा रहा।

टैंकर गुजरात के जामनगर से तीन पेट्रोल पंपों का तेल लेकर इलाहाबाद जा रहा था। अपराह्न 1.15 बजे जैसे ही वह प्रिया अस्पताल के पास पहुंचा, तभी पीछे से एक ट्रेलर चालक ने ओवरटेक करने के दौरान स्टेय¨रग घुमा दी। बचने की कोशिश में टैंकर चालक ने ब्रेक लगाए, जिससे टैंकर अनियंत्रित होकर पलट गया। सूचना पर पहुंचे पुलिस कर्मियों ने घायल चालक औरैया निवासी विवेक अवस्थी व खलासी मुकेश को निकाला। 20 मिनट में बर्रा थाने का फोर्स और फजलगंज फायर स्टेशन से सीएफओ एमपी सिंह दमकल गाड़ियां लेकर पहुंचे। दमकल टीम ने फ्लाईओवर और पनकी से बर्रा को आने वाले हाईवे की सर्विस रोड पर ट्रैफिक रुकवा दिया। इससे श्याम नगर से सचेंडी तक कई किमी लंबा जाम लग गया। सर्विस रोड बंद होने से कालपी रोड तक वाहन रेंगते रहे।

चिंगारी से हो सकता था धमाका

टैंकर में कई गैलन पेट्रोल था जो चैंबरों से लीक हो रहा था। छोटी सी चिंगारी इस टैंकर को आग के गोले में तब्दील कर सकती थी। हालांकि फायर अफसरों ने पूरी सावधानी बरती। आसपास कहीं किसी वाहन को आने नहीं दिया। दमकल गाड़ियों को भी नीचे सर्विस रोड पर खड़ा कराया गया। मीरपुर, लाटूश रोड, फजलगंज फायर स्टेशनों से भी एक दर्जन गाड़ियां बुलवाई गईं।

फोम डालने पर भी बहता रहा पेट्रोल

टैंकर से पेट्रोल का रिसाव रोकने के लिए जवानों ने सर्विस रोड से फ्लाईओवर तक हौज पाइप लगा फोम डाला पर कामयाबी नहीं मिली। तेज रिसाव के चलते कुछ ही देर में फोम बह गया। दूसरी गाड़ियों के चालकों ने टैंकर के चेंबर पर ढक्कनों के नट बोल्ट को कपड़ा व साबुन लगाकर कसा, तब रिसाव कम हुआ।

जेसीबी से उठाने पर निकली चिंगारी

टैंकर को सीधा कराने के लिए पुलिस ने तीन क्रेन और एक जेसीबी मंगवाई। जैसे ही टीम टैंकर को उठाने लगी तो रगड़ से तेज ¨चगारी निकली। ब्लास्ट की आशंका पर लोग सहम गए। अफसरों ने तुरंत सभी को रोक दिया। इसके बाद सीएफओ व बर्रा पुलिस ने इंडियन ऑयल के अफसरों को सूचना देकर मदद मांगी।

आइओसी टीम ने टैंकर खाली कराया

इंडियन ऑयल की टीम को लेकर जीएम सुभाष प्रसाद शाम करीब पांच बजे पहुंचे। इसके बाद कानपुर देहात माती से रिलायंस के टर्मिनल मैनेजर संतोष कामद भी छह सदस्यीय सेफ्टी टीम लेकर आए। शाम 6.45 बजे जीन पाइप की मदद से टैंकर के चेंबरों से दूसरे टैंकर में पेट्रोल भरा गया। तीन घंटे में सभी पांच चेंबर खाली हुए तब टैंकर सीधा खड़ा किया गया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप