जागरण संवाददाता, कानपुर : बार एसोसिएशन के चुनाव समय पर 17 दिसंबर को ही कराए जाएंगे। मंगलवार को एल्डर्स कमेटी ने प्रत्याशियों के साथ बैठक के उपरांत यह निर्णय लिया। एल्डर्स कमेटी ने साफ किया कि चुनाव प्रक्रिया शुरू होने के बाद फिर उस पर रोक नहीं लगाई जा सकती है। बहरहाल उन्हें अभी तक यूपी बार काउंसिल का कोई आदेश प्राप्त नहीं हुआ है।

अधिवक्ताओं ने एल्डर्स कमेटी की चुनाव संचालन व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए यूपी बार काउंसिल में शिकायत की थी। इस पर यूपी बार काउंसिल ने एल्डर्स कमेटी और बार एसोसिएशन को तलब किया था। सोमवार को इस मामले में सुनवाई होनी थी। बार एसोसिएशन के प्रतिनिधि के रूप में पदाधिकारी मधु यादव शामिल हुए, लेकिन एल्डर्स कमेटी की ओर से कोई नहीं पहुंचा। इस पर आमसभा में नई एल्डर्स कमेटी के चयन के निर्देश हुए हालांकि कोई आदेश बार एसोसिएशन नहीं भेजा गया। यूपी बार काउंसिल के सदस्य अमरेंद्र नाथ सिंह ने भी फोन पर हुई बातचीत में इसकी पुष्टि की थी। मंगलवार को इसी मामले में एल्डर्स कमेटी की बैठक हुई। बैठक में प्रत्याशियों को भी बुलाया गया था। प्रत्याशियों की ओर से समय पर चुनाव कराने का प्रतिवेदन दिया गया, जिस पर एल्डर्स कमेटी के चेयरमैन धर्मवीर सिंह गौर ने पूर्व घोषित कार्यक्रम के तहत चुनाव कराने का निर्णय लिया। पवन तिवारी, आदित्य सिंह समेत अन्य दावेदारों ने कहा कि चुनाव प्रक्रिया एक बार शुरू होने के बाद उस पर रोक नहीं लगाई जा सकती है। रामजी दुबे ने यूपी बार काउंसिल के सह अध्यक्ष अंकज मिश्रा को पत्र देकर समय पर चुनाव कराने की मांग की। एल्डर्स कमेटी के चेयरमैन ने बताया कि बार एसोसिएशन चुनाव का कार्यक्रम यूपी बार काउंसिल के प्रस्ताव 11 सितंबर 2021 के क्रम में घोषित किया जा चुका है। एल्डर्स कमेटी को अभी तक कोई आदेश प्राप्त नहीं हुआ है, लिहाजा समय पर ही चुनाव कराए जाएंगे। बैठक में उमाशंकर गुप्त, शंकर दत्त त्रिपाठी, वेद प्रकाश आर्य, राजेश यादव उपस्थित रहे।

Edited By: Jagran