कानपुर, जेएनएन। बेसिक शिक्षा विभाग की ओर से संचालित योजनाओं की राशि जब-जब जिलों में भेजी जाती है तो वह कभी समय से अभिभावकों के खातों में नहीं पहुंचती। बैंक के चलते, अभिभावकों को कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता। हालांकि अब जब स्कूल खुलेंगे तो मिड-डे मील से लेकर स्कूल बैग तक जो भी राशि शासन से भेजी जाएगी वह सीधे अभिभावकों के खातों में पहुंचेगी। इस नई पहल की शुरुआत व उसकी सफलता को लेकर स्कूल महानिदेशक विजय किरण आनंद ने सभी अधीनस्थों को दिशा-निर्देश दे दिए हैं। कहा गया है, कि इस काम में सारी तैयारियां स्कूल खुलने से पहले पूरी कर ली जाएं।

प्रेरणा पोर्टल पर अभिभावकों के खातों की होगी जानकारी : बीएसए डॉ,पवन तिवारी ने बताया कि विभाग से निर्दे्श मिल हैं, कि प्रेरणा पोर्टल पर अभिभावकों के खातों की सही और सटीक जानकारी अपलोड कराई जाए। बोले, इसके लिए पब्लिक फंड मैनेजमेंट सिस्टम (पीएफएमएस) सॉफ्टवेयर का उपयोग करना होगा। इस सॉफ्टवेयर की मदद से सभी अभिभावकों के खातों का सत्यापन होगा, फिर जानकारी दर्ज की जाएगी।

खंड शिक्षा अधिकारी लगाएंगे अंतिम मुहर : अभिभावक का खाता सही है या नहीं, इस पर सत्यापन की अंतिम मुहर खंड शिक्षा अधिकारी लगाएंगे। वह बैंक पास बुक की प्रति देखकर भी खाते संबंधी जानकारी को पोर्टल पर प्रमाणित करेंगे। इसके बाद ही शासन से उस खाते में राशि भेजी जाएगी। 

Edited By: Akash Dwivedi