जागरण संवाददाता, कानपुर: अपने दोस्त की शादी में शरीक होने आए अंबाला में तैनात सेना के 28 वर्षीय जवान कुलदीप दीक्षित की हर्ष फाय¨रग में गोली लगने से मौत हो गई। गोली उन्हीं की लाइसेंसी राइफल से चली। पुलिस ने राइफल चला रहे फौजी के गाव निवासी दोस्त संजय मौर्य को राइफल समेत गिरफ्तार कर लिया है। उधर फौजी कुलदीप के जीजा लखनऊ रुचि खण्ड निवासी शशिकात ने संजय मौर्य के खिलाफ लिखाया हत्या का मुकदमा।

रायबरेली के गाव पूरे मंगली, थाना सरैनी निवासी कुलदीप गाव के ही अपने दोस्त शिवप्रकाश की शादी में शामिल होने श्यामनगर के पीताबरा गेस्ट हाउस आए थे। उनकी लाइसेंसी राइफल इसी गाव का उनका दोस्त संजय मौर्य चला रहा था। इसी दौरान एक गोली कुलदीप के पेट में लगी और कमर की हड्डी तोड़ते हुए निकल गई। लोग कुलदीप को काशीराम ट्रामा सेंटर लेकर गए, जहा डाक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। कुलदीप की एख साल पहले नवंबर 2017 में ही शादी हुई थी। घटना की सूचना पर एसएसपी अखिलेश कुमार और एसपी पूर्वी अनुराग आर्य भी पहुंचे। देर रात कुलदीप के परिजन भी अस्पताल पहुंचे जहा उनकी बहन बेहोश हो गई। उन्हें बड़ी मुश्किल से होश में लाया गया।

उधर फौजी कुलदीप के जीजा लखनऊ रुचि खण्ड निवासी शशिकात ने संजय मौर्य के खिलाफ लिखाया हत्या का मुकदमा।

Posted By: Jagran