कानपुर, जेएनएन। सीबीएसई के दसवीं कक्षा में पढऩे वाले छात्रों के लिए नए सत्र से परीक्षा को लेकर नया नियम आने वाला है। यह अगले सत्र में दसवीं में पंजीकृत होने वाले छात्रों के लिए लागू होगा। इससे छात्रों को मुख्य परीक्षा की तैयारी करने में काफी आसानी भी होगी। ऐसी जानकारी शहर में एक कार्यक्रम में शामिल होने आईं सीबीएसई की इलाहाबाद की क्षेत्रीय अधिकारी ने दी। 

इलाहाबाद स्थित सीबीएसई की क्षेत्रीय अधिकारी श्वेता अरोड़ा ने बताया कि अगले सत्र से 10वीं के छात्रों को आंतरिक परीक्षा देनी होगी। सीबीएसई ने इसके लिए तैयारी कर ली है। आंतरिक परीक्षा का स्वरूप कैसा होगा, इस विषय में जल्द ही दिल्ली कार्यालय से निर्देश जारी होंगे। उन्होंने बताया कि 10वीं की आंतरिक परीक्षाओं के अलावा बोर्ड की ओर से 12वीं की प्रायोगिक परीक्षाओं में भी बदलाव किया जाएगा। इस संबंध में जल्द ही दिशा-निर्देश स्कूलों में प्रिंसिपल्स को मिल जाएंगे। इस सत्र से लागू नए नियमों के तहत बोर्ड परीक्षा देने वाले छात्र-छात्राओं को गणित में दो अन्य लेवल (अतिरिक्त अध्याय) की पढ़ाई भी करनी होगी।

स्कूलों की मनमानी की करें शिकायत

कई सीबीएसई से संबद्ध स्कूलों की ओर से फीस, यूनिफार्म और बुक्स को लेकर मनमानी की जा रही है के सवाल पर उन्होंने कहा कि स्पष्ट निर्देश है कि एनसीईआरटी की किताबों से पढ़ाई हो। यदि स्कूल मनमानी कर रहे हैं तो पैरेंट्स बोर्ड के रीजनल ऑफिस में शिकायत करें। संबंधित स्कूल पर कार्रवाई की जाएगी और शिकायत करने वाले की पहचान को गोपनीय रखा जाएगा।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Abhishek

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप