कानपुर, जेएनएन। शासन के निर्देश पर शहर में हाईअलर्ट जारी होने के बाद एडीजी ने पुलिस, प्रशासन समेत रक्षा प्रतिष्ठानों और निजी बड़े अस्पतालों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक करके सुरक्षा व्यवस्था की जानकारी ली है। साथ ही इंटेलिजेंस, एयरफोर्स, रेलवे सुरक्षा समेत शहर के प्रतिष्ठित निजी प्रतिष्ठानों के अफसरों का वाट्सएप ग्रुप भी बनाया, जिसमें सभी सूचनाएं साझा करने के निर्देश दिए हैं।

यूपी में नेपाल के रास्ते आतंकियों की घुसपैठ की जानकारी के बाद शासन ने संवेदनशील शहरों में हाई अलर्ट जारी कर दिया है। वहीं जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटाए जाने, सुप्रीम कोर्ट में राम जन्मभूमि पर सुनवाई पूरी होने के चलते आतंकी गतिविधियों के मद्देनजर सतर्कता बरती जा रही है। त्योहारी दिन होने के चलते विशेष तौर पर सुरक्षा व्यवस्था चुस्त रखने के निर्देश दिए गए हैं। इसी क्रम में एडीजी प्रेम प्रकाश ने इंटेलिजेंस, एयरफोर्स, रेलवे व तमाम सार्वजनिक और निजी प्रतिष्ठानों के अफसरों के साथ बैठक की और सुरक्षा व्यवस्था के बारे में जानकारी लेकर मॉक ड्रिल करने के लिए कहा है।

इस दौरान अधिकारियों का वाट्सएप ग्र्रुप भी बनाया गया और असामान्य स्थिति पर तत्काल सूचना पुलिस प्रशासन के अधिकारियों को देने व ग्रुप पर शेयर करने को कहा है। एडीजी ने कहा कि हर छोटी से छोटी घटना, संदिग्ध व्यक्ति और वस्तु पर भी नजर रखें। इस दौरान जिलाधिकारी विजय विश्वास पंत, एसएसपी अनंत देव, पीएसी 37वीं बटालियन के कमांडेंट, एसपी इंटेलिजेंस राजेश कुमार, एसपी एलआइयू विजय त्रिपाठी, आइबी, एयरफोर्स इंटेलिजेंस, आर्मी इंटेलिजेंस, रक्षा प्रतिष्ठानों, आइआइटी, आयुध निर्माणियां, पॉवर प्लांट, इंडियन ऑयल व आइटीबीपी के अधिकारी, सभी एसपी, सीएमओ समेत शहर के बड़े अस्पतालों के प्रतिनिधि मौजूद रहे।

Posted By: Abhishek

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस