जागरण संवाददाता, कानपुर : जिले में शनिवार को राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया गया। यहां एक दिन में चार हजार से ज्यादा मुकदमे निपटाए गए और नौ करोड़ से ज्यादा का जुर्माना वसूलने के साथ और पीड़ितों को हर्जाना को दिलाया गया।

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के तत्वावधान में आयोजित राष्ट्रीय लोक अदालत का जनपद न्यायाधीश रामकृष्ण गौतम ने दीवानी न्यायालय परिसर में दीप प्रज्जवलित कर शुभारंभ किया। इसमें मोटर दुर्घटना प्रतिकर, सिविल, लघु अपराधिक, वैवाहिक विवाद, बैंक और मोबाइल कंपनियों के विवादों का निपटारा सुलह समझौते के आधार पर किया गया। न्यायालय द्वारा 3796 मामलों का निस्तारण किया गया और 5,93,69,747 रुपये की धनराशि पीड़ितों को दिलायी गयी व जुर्माना जमा कराया गया। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की सचिव कल्पना द्वितीय ने बताया कि प्री लिटिगेशन स्तर पर 1019 वादो का निस्तारण हुआ, जिसमें 3,94,04,343 रुपये की धनराशि बैंकों को प्राप्त हुई। इस तरह कुल 4815 मुकदमों का निस्तारण कर 9,87,74,090 रुपये बतौर जुर्माना वसूला गया और पीड़ितों को दिलाया गया।

कार्यक्रम का संचालन एडीजे शैलेन्द्र कुमार पांडेय ने किया। इस अवसर एडीजे रजत सिंह जैन, प्रधान न्यायाधीश परिवारिक न्यायालय संगीता श्रीवास्तव, जिलाधिकारी विजय विश्वास पंत, एसएसपी अखिलेश कुमार, बार एसोसिएशन अध्यक्ष राधाकृष्ण पांडेय, लॉयर्स महामंत्री जितेन्द्र सिंह तोमर, शिवेन्द्र कुमार पांडेय, गोपाल गुप्ता आदि उपस्थित रहे।

---------

जनपद न्यायाधीश ने 55 मुकदमे निस्तारित किए

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सचिव कल्पना द्वितीय ने बताया कि राष्ट्रीय लोक अदालत में जनपद न्यायाधीश से 55 मुकदमों का निस्तारण किया और प्रतिकर के रूप में 18,20,000 रुपये की धनराशि पीड़ितों को दिलाई गई।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप