जागरण संवाददाता, कानपुर: साउथ सिटी का पॉश इलाका किदवईनगर भी समस्या से जूझ रहा है। चोक व जर्जर सीवर लाइन के चलते वार्ड 92 की करीब 35 हजार आबादी दूषित पानी से जूझ रही है। बिना बरसात के ही क्षेत्र में जगह-जगह पानी भरा हुआ है। महामारी फैलने का खतरा बढ़ गया है। हालत यह है कि क्षेत्र के लोग बारिश के नाम से कांपने लगते हैं।

कई जगह स्थिति यह है कि लाइन चोक होने के कारण सड़क पर पानी भरने के साथ ही लोगों के घरों में भी पानी भर रहा है। बारिश में क्षेत्र में एक-एक फीट तक पानी भर जाता है। लोग घरों में कैद हो जाते है। सड़क पर पानी भरने के कारण उखड़ भी जाती है।

सीवर चोक होने व पाइप लाइन भी जर्जर होने के कारण घरों में दूषित पानी भी आ रहा है। बरसात में यह समस्या और बढ़ जाती है। इसके अलावा हर घर से समय पर कूड़ा उठाया जाए तो सड़क पर समस्या न आए और सुबह ही क्षेत्र से गंदगी गायब हो जाएगी।

अंकल जी, पार्क में हों झूले

बच्चों ने अफसरों से मांग की कि अंकल पार्को में झूले लगाए जाए ताकि वह भी मनोरंजन कर सकें। सजल बाजपेयी, शिखर, अर्पिता, रजत ने कहा कि इन्द्रा पार्क एच ब्लाक किदवईनगर का सौन्दर्यीकरण रिलायंस ने कराया था। इसमें झूले लगाने का प्रावधान था, लेकिन अभी तक नहीं लगाए गए है।

बरातशाला का हो निर्माण

क्षेत्रीय लोगों ने अफसरों से मांग की कि क्षेत्र में एक बरातशाला का निर्माण कराया जाए ताकि गरीब जनता को राहत मिल सके।

क्षेत्र का हाल

वार्ड - 92

मोहल्ले -एच, के, वाई और एच वन ब्लाक किदंवई नगर, विराट नगर, उस्मानपुर (आंशिक), अशोक विहार

आबादी - 35

विशेषता

साईं मंदिर गौशाला, संजय वन, मिक्की हाउस

क्या कहते हैं जिम्मेदार

'क्षेत्र की सबसे बड़ी समस्या चोक सीवर लाइन है। इसको लेकर कई बार आला अफसरों से शिकायत कर चुके है। इसके बाद भी समस्या का निजात नहीं हुआ तो उप मुख्यमंत्री व शहर प्रभारी केशव मौर्या से शिकायत करेंगे।'

- प्रमोद जायसवाल, पार्षद वार्ड 92

'जागरण आपके द्वार में जो भी समस्याएं आई हैं उनका प्राथमिकता के आधार पर निस्तारण कराया जाएगा। गल्ला मंडी किदवई नगर में कई दिनों से चोक नाली व गंदगी की शिकायत आयी थी उसका तुरन्त निस्तारण कराया गया है।

- राजीव शुक्ल, जोनल प्रभारी तीन, नगर निगम

जनता का आवाज

'क्षेत्र में सबसे बड़ी समस्या सीवर की है। बिना बरसात के ही पानी भरा हुआ है। घर से निकलना मुश्किल हो जाता है। कई बार शिकायत कर चुके है।

-गौरव त्रिपाठी

सीवर भराव के कारण क्षेत्र में मच्छरों का प्रकोप भी ज्यादा है। इसके चलते महामारी फैलने का खतरा बना रहता है। चोक सीवर समस्या से निजात दिलायी जाए।

-गणेश शंकर शुक्ल

पीने के पानी के लिए क्षेत्र में भी एटीएम मशीन लगायी जाए, लोगों को शुद्ध पानी मिल सके और क्षेत्र में पीने के पानी की किल्लत नहीं रहेगी। इसके अलावा बंद हैंडपंप चालू कराए जाए।

-धीरज दीक्षित

जर्जर पाइप लाइनों के चलते घरों में दूषित पानी आ रहा है। लोगों को पीने के पानी के लिए जूझना पड़ रहा है। हैंडपंप भी खराब होने से गर्मी में पीने के पानी के लिए जूझना पड़ता है।

आशिष गुप्ता

क्षेत्र में सीवर भराव के कारण सड़क भी उखड़ रही है। कई बार आला अफसरों से शिकायत कर चुके है। पार्क में बैंच लगवायी जाए व एक माली की तैनाती की जाए।

विनोद मिश्रा

बरातशाला का निर्माण कराया जाए। ताकि गरीब लोगों को राहत मिल जाए। इसके अलावा नालियों की रोज सफाई करायी जाए। जर्जर पाइपों को बदला जाए।

अशोक कुमार मिश्रा

जागरण सुझाव

0 क्षेत्र में सफाई कर्मचारियों की संख्या 46 है जरूरत के हिसाब से सौ होनी चाहिए।

0 क्षेत्र में सीवर सफाई के लिए तीन कर्मचारी है। जबकि 25 कर्मचारी होने चाहिए।

0 बंद पड़े 20 हैंडपंप चालू कराए जाए ताकि गर्मी में पीने के पानी के लिए लोगों को जूझना न पड़े।

0 पेयजल की जर्जर पाइपों को बदला जाए।

0 चोक सीवर लाइन को ठीक कराया जाए ताकि लोगों को निजात मिल सके।

0 बरातशाला का निर्माण कराया जाए।

0 पेयजल के लिए एटीएम मशीन लगायी जाए।

0 क्षेत्र में कम से कम तीन माली तैनात किए जाए।

0 क्षेत्र में एक स्टेडियम का निर्माण कराया जाए।

यह अफसर थे मौजूद

नगर निगम के जोनल प्रभारी राजीव शुक्ल, जोनल अभियंता रमेश श्रीवास्तव, जोनल स्वास्थ्य अधिकारी मनोज पाल, जलकल के अधिशासी अभियंता एस शर्मा, सेनेटरी इंस्पेक्टर इन्द्रपाल सिंह, अवर अभियंता कैलाश व बी अंसारी, कर अधीक्षक ब्रजेश शर्मा व दीपक यादव, कर निरीक्षक महराज अहमद

यह आयी समस्याएं

नगर निगम - 95

जलकल - 76

गल्ला मंडी किदवईन् नगर में उठा कूड़ा

जागरण आपके द्वार में गल्ला मंडी किदवईनगर में एकत्र कूड़े की शिकायत आने पर अफसरों ने तुरन्त सफाई कर्मचारियों की टीम भेजकर कई दिनों से एकत्र कूड़ा उठवाया और नाली भी साफ कराई।

By Jagran