जागरण संवाददाता, कानपुर : लंबे समय से जिस मेट्रो का इंतजार शहर में था, वह शुरू भी हुई और एक माह भी पूरा हो गया। इस एक माह में शहर के लोगों ने मेट्रो को हाथों-हाथ लिया। 29 जनवरी को शुरू हुई मेट्रो का 28 दिसंबर को एक माह पूरा हो गया और इस दौरान चार लाख यात्रियों ने मेट्रो का सफर किया। मेट्रो शुरू होने से पहले अधिकारी सोच रहे थे कि उन्हें यात्रियों को आग्रह करके बुलाना पड़ेगा, लेकिन हालात ऐसे बने कि अधिकारियों को स्टेशनों पर यात्रियों की भीड़ को नियंत्रित करने के लिए अपने आफिस स्टाफ को भी लगाना पड़ा।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 28 दिसंबर को कानपुर मेट्रो का उद्घाटन किया था। इसके अगले दिन 29 दिसंबर को मेट्रो आम नागरिकों के लिए शुरू की गई। पहले ही दिन मेट्रो में जबरदस्त भीड़ रही, लेकिन उसी सप्ताह में नव वर्ष भी पड़ा और एक जनवरी को यात्रियों की संख्या 45 हजार पहुंच गई। ट्रेन शुरू होने के दूसरे सप्ताह में ही मौसम खराब हो गया था। इसके बाद बारिश भी हुई और तापमान बहुत तेजी से गिरा। इसके चलते यात्रियों की संख्या में कमी आई। मेट्रो में यात्रा करने वाले लोगों की संख्या औसतन 13 हजार प्रतिदिन है। गणतंत्र दिवस के दिन यात्रियों की संख्या 17 हजार जरूर हुई लेकिन फिलहाल सामान्य दिनों में छह-सात हजार यात्री सफर कर रहे हैं।

------------

मोतीझील नंबर वन

यात्रियों की संख्या के मामले में मोतीझील नंबर एक स्टेशन है। वहां से सबसे अधिक टिकट बिक रहे हैं। इसके बाद रावतपुर और आइआइटी स्टेशन में का नंबर है। ------------

एक माह में 47 छूटे हुए सामान लौटाए गए

मेट्रो प्रबंधन ने एक माह में 47 यात्रियों के छूटे हुए सामान वापस लौटाए हैं। इसमें दो मोबाइल, 15 बैग, छह पर्स, दो कागजात, एक बैंक कार्ड, इलेक्ट्रानिक गैजेट दो, 19 अन्य आइटम हैं।

Edited By: Jagran