कानपुर, जेएनएन। UP Lockdown Extension एक इंटरव्यू में कोविड 19 हास्पिटल टास्क फोर्स के कनवीनर डॉ. गिरधर ग्यानी ने कहा कि निश्चित ही हम इसे स्टेज थ्री कह सकते हैं। अधिकारिक रूप से हम ऐसा नहीं कह सकते, लेकिन कोविड की स्टेज थ्री शुरू हो चुकी है। डॉ. ग्यानी एसोसिएशन ऑफ हेल्थकेयर प्रोवाइडर्स के संस्थापक है। 24 मार्च को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ आयोजित वीडियों कांफ्रेंसिंग में भी उन्होंने सहभागिता की थी। उनका यह इंटरव्यू इंटरनेट मीडिया पर वायरल हुआ तभी प्रदेश सरकार ने तीन दिन की साप्ताहिक बंदी की। बंदी के समापन होने से पहले ही इसे छह मई तक और बढ़ा दिया। जिसके बाद यह अवधि दस दिनों की हो जाएगी। डॉ. ग्यानी की वायरल न्यूज और प्रदेश सरकार के लॉकडाउन से अब लोग डॉक्टर की बात को सही मानने लगे हैं।

कोविड की तीसरी स्टेज की बारे में सोचकर लोगों में बेचैनी हो रही है। साप्ताहिक बंदी समाप्त होने से पहले ही उसे बढ़ा देने से भी लोग परेशान हैं। दरअसल लोगों ने इसके लिए तैयारी भी नहीं की और सरकार ने भी जरूरतमंदों के लिए न तो कोई घोषणा की। जरूरी वस्तुएं कैसे लोगों तक पहुंचेगी इसका इंतजाम बंदी की अवधि बढ़ाने के बाद किया जा रहा है जबकि इसकी तैयारी पहले से ही होनी चाहिए थे। जानकारों का मानना है कि हाईकोर्ट के आदेश के साथ ही सरकार को लॉकडाउन का निर्णय ले लेना चाहिए था। तब सरकार सुप्रीम कोर्ट चली गई और आम आदमी की रोजी रोटी का हवाला देकर आदेश का विरोध कर दिया। हाईकोर्ट के उस आदेश काे समय ज्यादा नहीं बीता, अब सरकार को वही करना पड़ा। यह निर्णय पहले लेते तो मौत का तांडव रोका जा सकता था।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021