उन्नाव, जेएनएन।Human Smuggling Case In UP  जिले में डेरा डाले आतंकवाद निरोधक दस्ता (एटीएस) ने मंगलवार को तीसरे दिन बंथरा औद्योगिक क्षेत्र स्थित एक स्लाटर हाउस में छापेमारी की। इससे हलचल मच गई। करीब पौन घंटे तक जांच करने के बाद टीम लौट गई। सूत्र बताते हैं कि दस्तावेज खंगालने के साथ ही रोहिंग्या से जुड़ी पड़ताल की है। सबसे अजीब बात ये है कि छापेमारी से थाना पुलिस अंजान रही। कंपनी के जिम्मेदार और प्रबंधन ने भी चुप्पी साधे रखी। 

यह भी पढ़ें : उन्नाव में पुलिस टीम करेंगी घुसपैठियों की तलाश, 200 से अधिक फैक्ट्रियों में कार्यरत मजदूरों का हाेगा सत्यापन

 सूत्र बताते हैं कि मंगलवार अपराह्न दो गाडिय़ों से टीम स्लाटर हाउस पहुंची। मुख्य द्वार से भीतर न जाकर दो नंबर गेट से इंट्री की। टीम फैक्ट्री के भीतर करीब 40 से 45 मिनट रुकी और पीछे के ही गेट से वापस हो गई। टीम ने वहां जांच के बाद कुछ लोगों को उठाया भी है। हालांकि, इसकी पुष्टि किसी ने नहीं की। स्लाटर हाउस प्रबंधन से बात करने का प्रयास किया गया तो उनसे जवाब नहीं मिला। टीम मंगलवार को शाहिद के कासिम नगर स्थित घर भी गई, जहां उसकी पत्नी से जानकारियां हासिल कर लौट गई। वहीं, संबंधित क्षेत्र की पुलिस चौकी बदरका के प्रभारी वीर बहादुर व इंस्पेक्टर अचलगंज अतुल तिवारी ने भी स्लाटर हाउस में एटीएस के छापे की जानकारी से साफ इन्कार किया। एसपी आनंद कुलकर्णी ने बताया कि एटीएस को जब स्थानीय फोर्स की जरूरत होती है तो संपर्क करते हैं। मंगलवार को जिले में उनकी किसी गतिविधि की जानकारी नहीं है। 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021