कानपुर, जेएनएन। योग और ध्यान से नारी का मनोबल बढ़ेगा। स्वस्थ और संतुलित होने से समाज के निर्माण में बेहतर योगदान करेगी। जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज में महिला सशक्तीकरण कार्यक्रम के तहत मिशन शक्ति-नारी सुरक्षा नारी सम्मान व स्वालंबन कार्यक्रम फिर से शुरू किया गया है, जो 8 मार्च तक चलेगा। इस दौरान विविध कार्यक्रमों का आयोजन किया गया जाएगा।

पहले दिन योग एवं ध्यान का कार्यक्रम हुआ, जिसमें मेडिकल कॉलेज की छात्रवास की जूनियर डॉक्टर, छात्राओं एवं कर्मचारियों ने शिरकत की। दूसरी दिन महिला सशक्तीकरण में डॉक्टरों की भूमिका पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसमें स्त्री एवं प्रसूति रोग विभाग की डॉ. दिव्या द्विवेदी ने विस्तार से जानकारी दी। इस दौरान कार्यक्रम की नोडल अफसर डॉ. नीना गुप्ता ने भी विचार रखे। इस दौरान डॉ. अनीता गौतम, डॉ. सपना सिंह, कम्यूनिटी मेडिसिन विभागाध्यक्ष डॉ. सीमा निगम, डॉ. रश्मि यादव, डॉ. श्रुति गुप्ता, डॉ. उरूज जहां, डॉ. शैली अग्रवाल, डॉ. सोनी वर्मा तथा सिस्टर बीना डॉली सिंह मौजूद रहीं।

लेक्चर थियेटर में कार्यक्रम

मेडिकल कॉलेज के जूनियर डॉक्टरों एवं छात्र-छात्राओं के बीच महिला सशक्तीकरण को लेकर विविध प्रतियोगिताओं का भी आयोजन किया गया। इसमें वाद-विवाद एवं प्रोस्टर प्रतियोगिता भी कराई गई। इस दौरान उप प्राचार्य प्रो. रिचा गिरि एवं अन्य फैकल्टी मौजूद रही।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021