हमीरपुर, जेएनएन। जिले में मंगलवार को सामने आई घटना पूरा दिन चर्चा का विषय बनी रही। घटना को लेकर सभी ने अपने-अपने स्तर पर कयास लगाना शुरू कर दिया। घटना कुछ इस प्रकार रही कि, रामस्वरूप नामक पति का 18 फरवरी को उसकी पत्नी शकुंतला के साथ झगड़ा हो गया। घटना के एक दिन बाद उसकी पत्नी ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली थी। हालांकि घटना को ने लेकर रामस्वरूप के साले ने उन पर हत्या करने का आरोप लगाया है। 

यह है पूरा मामला 

गोहानी गांव निवासी रामस्वरूप खटीक अपनी 30 वर्षीय पत्नी शकुंतला के साथ खेत पर ही रहते थे। चूंकि फसल की रखवाली भी करनी होती थी तो वे खेत पर ही रहते थे। उन्होंने 20 फरवरी को पत्नी की गुमशुदगी दर्ज कराई थी। जब यही बात उनके चित्रकूट के राजापुर निवासी साले नरेश और उसके मामा को पता चली तो उन्हें संदेह हुआ और इसी आधार पर उन्होंने खुद पत्नी की तलाश शुरू कर दी। ऐसे में जब वे मंगलवार को बहन की खोज करते खाई के पास पहुंचे तो उन्हें शकुंतला के सिर के आधे जले बाल, साड़ी का कपड़ा और पैर की हड्डी बरामद हुई। तब उन्होंने पुलिस को सूचना दी और बहनोई रामस्वरूप पर हत्या का आरोप लगाया। मौके पर थानाध्यक्ष रामजीत गौड़ पहुंचे और आरोपित को हिरासत में लेकर पूछताछ की। कड़ाई से पूछने पर रामस्वरूप ने पुलिस को बताया कि 18 फरवरी को नरेश घर आया था। किसी बात को लेकर उससे विवाद हो गया था। उसके वहां से जाने के बाद पत्नी से भी कहासुनी हो गई। जिस पर शकुंतला ने फांसी लगाकर जान दे दी थी। 20 फरवरी की सुबह उसके शव को फंदे पर लटका देखा तो रस्सी को काटकर उसका शव जंगल में ले गया। जहां मिट्टी का तेल डालकर आग लगाकर खाई में फेंक दिया। 

पुलिस की भी सुनिए 

रामजीत गौड़ ने बताया कि महिला का शव बरामद नहीं हुआ है। आरोपित से पूछताछ की जा रही है। इसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। इस बाबत पुलिस क्षेत्राधिकारी अखिलेश राजन ने बताया कि आरोपित रामस्वरूप के बयान के आधार पर शव की तलाश की जा रही है। जांच कर आरोपित पर हत्या का मुकदमा दर्ज किया जाएगा। 

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप