कानपुर, जेएनएन। Tractor Rally In UP जहां एक ओर पूरा देश 72वें गणतंत्र दिवस के जश्न में डूबा है। वहीं, देश का किसान कृषि बिल के विरुद्ध अपना रोष जाहिर कर रहा है। उत्तर प्रदेश में अलग-अलग जनपदों में किसान और समाजवादी पार्टी के नेता भी सरकार का विरोध कर रहे हैं। बता दें कि अपनी मांगों पर अटल रहते हुए किसान नेताओं ने ऐलान किया है कि एक फरवरी यानि बजट सत्र के दिन सदन तक पैदल मार्च करेंगे। अब ट्रैक्टर रैली और पैदल मार्च प्रशासनिक व्यवस्था के रहते सफल होते हैं या नहीं इस पर अभी फिलहाल कुछ नहीं कहा जा सकता है। बहरहाल, सभी जिलों में प्रशासनिक व्यवस्था चाकचौबंद है। इसके अलावा कुछ जिलाें में प्रशासनिक व्यवस्था प्रदर्शन पर भारी पड़ती दिखाई पड़ रही है। माहौल न बिगड़े इसके लिए पुलिस बराबर सतर्क है। वहीं, कानपुर की बात करें तो यहां उपद्रव कर रहे कई सपा और कांग्रेस के नेताओं को गिरफ्तार किया गया है। जिलों में आवागमन न प्रभावित हो इसके लिए प्रशासन लगातार सपा कार्यकर्ताओं और किसानों से आग्रह कर रहा है। हम आपको बताते हैं कि कानपुर नगर के आसपास के जिलों में किसान और सपा के प्रदर्शन की स्थिति-   

इटावा-

समाजवादी पार्टी का गढ़ माने जाने वाले जिले में प्रशासन की सख्ती के चलते सपाइयों को निराश होकर लौटना पड़ा।  ट्रैक्टर रैली में जा रहे सपा कार्यकर्ताओं को रोके जाने पर उनकी पुलिस से झड़प हो गई इसके बाद पुलिस ने लाठी मारकर उन्हें खदेड़ दिया। लाठी के डर से समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता ट्रैक्टर छोड़कर अपनी जान बचाने के लिए भागे। एसएसपी चौराहे पर सपा कार्यकर्ता ट्रैक्टरों पर बैठकर आनंद यादव टंटी के साथ जा रहे थे पुलिस ने ट्रैक्टरों को रोक दिया इस पर झड़प हो गई। गुस्साई पुलिस ने लाठियां मारकर कार्यकर्ताओं को खदेड़ दिया, थोड़ी देर के लिए एसएसपी चौराहे पर हंगामा खड़ा हो गया। जसवंतनगर में सपा नेता भुज वीर सिंह यादव ने ट्रैक्टर रैली निकाली हालांकि पुलिस ने ट्रैक्टर रैली को कस्बे में नहीं आने दिया उनके पुत्र मोहित यादव को हिरासत में ले लिया बाद में उन्हें छोड़ दिया गया, भरथना व उसराहार मैं भी सपाइयों द्वारा ट्रैक्टर रैली निकाली गई। 

यह भी पढ़ें : कानपुर में पुलिस-प्रशासन ने सपाइयों और कांग्रेसियों का रोका रास्ता, कई नेता गिरफ्तार

फतेहपुर- 

बिंदकी तहसील मुख्यालय को आने वाले सभी रास्तों को सील कर दिया गया है। ट्रैक्टरों के आने पर रोक लगा दी गई है। पुलिस को ट्रैक्टर सीज करने के निर्देश दिए गए हैं। बिंदकी में भाकियू टिकैत, भाकियू राष्ट्रीयतावादी, सपा और कांग्रेस का ट्रैक्टर से तहसील मुख्यालय बिंदकी में प्रदर्शन प्रस्तावित था। ट्रैक्टर रोकने के लिए बिंदकी तहसील को आने वाले सभी रास्तों में पुलिस तैनात की गई है।

एसडीएम प्रियंका व सीओ  योगेंद्र सिंह मालिक ने बैठक की। किसान संगठनों के नेताओं से बात कर सीओ ने प्रशासन की मंशा साफ कर दी। उन्होंने बताया कि किसी भी दशा में ट्रैक्टर तहसील मुख्यालय नहीं पहुंचेंगे। जो भी ट्रैक्टर आएगा उसे सीज कर मुकदमा दर्ज किया जाएगा। इसी दौरान, फायर ब्रिगेड की भी तैनात की गई है। फतेहपुर व खागा में पुलिस सपा व भाकियू नेताओं को प्रशासन ने नजरबंद किया हुआ है। 

चित्रकूट-

जिले में समाजवादी पार्टी ने गणतंत्र दिवस पर किसानों के समर्थन में ट्रैक्टर जुलूस निकाला। सपा कार्यकर्ताओं को रोकेने पर पुलिस से तकरार हुई। ट्रैक्टर जुलूस से नगर में घंटों जाम लगा रहा। हालांकि ट्राफिक चौराहे से आगे पुलिस ने सपाइयों को आगे नहीं बढ़ने दिया। कृषि कानूनों के विरोध में सपाइयों ने मंगलवार को करीब एक दर्जन ट्रैक्टर के साथ जुलूस निकाला। करीब 11 बजे राजापुर रोड़ स्थित मुलायम नगर से सपा जिलाध्यक्ष अनुज यादव की अगुवाई में सपाइयों ने ट्रैक्टर लेकर निकले।

नगर में करीब एक घंटे तक जाम लगा रहा। ट्राफिक चौराहे के आगे प्रशासन ने सपाइयों को आगे नहीं बढ़ने दिया। इसके बाद सपाई ट्रैक्टर लेकर वापस हो गए। गल्ला मंडी के पास कर्वी कोतवाल वीरेंद्र त्रिपाठी ने ट्रैक्टरों को रोक लिया। अपनी गाडि़यां ट्रैक्टरों के सामने लगा दी। एक घंटे तक सपाई हंगामा करते रहे। दरआल वे पार्टी कार्यालय बस स्टैंड तक जाना चाहते थे। एसडीएम सदर रामप्रकाश के पहुंचने पर सपाइयों को आगे बढ़ने दिया गया। 

कन्नौज- 

जिले में किसान बिल के विरोध में सपाई ट्रैक्टर मार्च निकालने के लिये अड़े रहे तो पुलिस ने उन्हें पार्टी कार्यालय से बाहर ही नहीं निकलने दिया। पुलिस के रवैये को तानाशाही भरा बताते हुये सपाइयों ने आगे के दिनों में ट्रैक्टर रैली निकलने का ऐलान किया है। सुबह से ही तिर्वा रोड स्थित पार्टी कार्यालय पर सपाई ट्रैक्टर लेकर जमा होने लगे थे। सदर विधायक अनिल दोहरे, पूर्व ब्लॉक प्रमुख नवाब सिंह यादव, जिला पंचायत सदस्य संजू कटियार, जिलाध्यक्ष मुन्ना दरोगा, हसीब हसन, भोले कुरैशी, संजय दुबे सहित तमाम सपा नेता टैक्टर पर तिरंगा लगा रैली निकालने की तैयारी कर ही रहे थे कि भारी फोर्स के साथ पहुंचे सीओ सिटी शिवप्रताप सिंह ने सबको पार्टी कार्यालय के अंदर ही रोक दिया।

जहां एक ओर पार्टी कार्यालय पर सपाई नजरबंद थे तो वहीं, दूसरी तरफ तालग्राम से पूर्व चेयरमैन दिनेश यादव पुलिस की आंखों में धूल झोंक ट्रैक्टरों का काफिला लेकर निकल पड़े। वह थोड़ी दूर ही चल पाये थे की भारी पुलिस फोर्स ने उनका रास्ता रोक लिया और आगे नहीं बढ़ने दिया। इस मामले में एएसपी विनोद कुमार ने बताया कि शांति व्यवस्था को भंग नहीं होने दिया जाएगा। अराजकता करने वालों पर कार्रवाई की जाएगी।

औरैया- 

पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत मंगलवार को किसानों के समर्थन में ट्रैक्टर रैली निकाली। किसी प्रकार की गड़बड़ी न हो, इसलिए शहर के प्रमुख चौराहों पर पुलिस फोर्स तैनात रहा। वहीं दिबियापुर नहर के पास एसडीएम सदर व एडीएम तैनात रही। हालांकि जेसीज चौराहे पर सपाइयों व कोतवाल के बीच थोड़ी सी नोकझोंक हुई। दर्जा प्राप्त पूर्व राज्य मंत्री इरशाद, जिला उपाध्यक्ष अवधेश भदौरिया व पूर्व जिला अध्यक्ष आंखों यादव के नेतृत्व में ट्रैक्टर रैली निकाली गई।

रैली मंडी गेट से होती हुई जेसीज चौराहा, फफूंद तिराहा, दिबियापुर बाईपास होते हुए तहसील पहुंची। यहां पर सपाइयों ने अखिलेश यादव जिंदाबाद के नारे लगाते हुए भाजपा सरकार पर तीखे प्रहार किए। रैली के दौरान अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के जिला अध्यक्ष हाफिज अब्दुल सत्तार, सर्वेश बाबू गौतम, अशोक गुप्ता के अलावा बड़ी संख्या में सपाई मौजूद रहे। वहीं, बिधूना तहसील व अजीतमल में भी सपाइयों ने किसानों के समर्थन में ट्रैक्टर रैली निकाली। उधर दिबियापुर नहर के पास एसडीएम सदर रमेश यादव व एडीएम रेखा एस चौहान मौजूद रहीं।

बांदा-

किसानों के समर्थन में सपाइयों ने जिले में शहर समेत अतर्रा, बबेरू, नरैनी तहसील क्षेत्रों में ट्रैक्टर रैली निकाली। जगह-जगह पुलिस ने रैली निकाल रहे सपाइयों को रोका। सपा जिलाध्यक्ष विजय करण यादव की अगुवाई में शहर कोतवाली क्षेत्र के पहरी गांव से ट्रैक्टर रैली निकालने का प्रयास किया गया। जिसमें एएसपी महेंद्र प्रताप चौहान, सीओ सदर अजय सिंह भदोरिया आदि ने उन्हें रोक लिया। जिसको लेकर पार्टी के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं ने सड़क में धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया। वहीं यूथ बिग्रेड जिलाध्यक्ष राजन चंदेल ने कार्यकर्ताओं की दूसरी टोली के साथ शहर में ट्रैक्टर रैली निकाली। जिसको कोतवाली निरीक्षक जय श्याम शुक्ल ने रोक लिया। पुलिस व सपाइयों के बीच में नोकझोंक होती रही।

बबेरू में पूर्व क्षेत्रीय विधायक विशंभर यादव की अगुवाई में पार्टी के पदाधिकारी व कार्यकर्ताओं ने ट्रैक्टर रैली निकालने का प्रयास किया। जिसमें पुलिस ने पूर्व विधायक समेत कई कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया। वही अतर्रा तहसील क्षेत्र के ग्राम तुर्रा के पास झांसी मिर्जापुर राष्ट्रीय राजमार्ग में भारतीय किसान यूनियन के जिला अध्यक्ष बलराम तिवारी व बुंदेलखंड किसान यूनियन के संयुक्त अगुवाई में निकल रहे ट्रैक्टर जुलूस को पुलिस ने रोका। मौके पर एसडीएम अतर्रा जेपी यादव तहसीलदार विजय प्रताप सिंह प्रभारी निरीक्षक अतर्रा अखिलेश मिश्रा वह बदौसा थाने का पुलिस बल मौजूद रहा। 

 उरई-

कांग्रेस, सपा व भाकपा ने संयुक्त रूप से प्रदर्शन किया। विभिन्न दलों के नेता ट्रैक्टर लेकर पहले टाउन हाल पर एकत्रित हुए। इसके बाद केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए शहर भर में ट्रैक्टर लेकर घूमे। एडीएम को ज्ञापन सौंपने के बाद प्रदर्शनकारियों ने रैली खत्म की। गणतंत्र दिवस के मौके पर कांग्रेस जिलाध्यक्ष अनुज मिश्रा, पूर्व विधायक विनोद चतुर्वेदी, शहर अध्यक्ष रेहान सिद्दीकी, सपा से सुरेंद्र मौखरी, हिमांशु ठाकुर, शफीकुर्रहमान, सुरेश निरंजन भैया जी समेत बड़ी संख्या में कार्यकर्ता ट्रैक्टर व दोपिहया वाहन लेकर पहुंचे थे। स्टेशन रोड से लेकर टाउन हाल के सामने तक ट्रैक्टरों की लंबी कतार लग गई । केंद्र पर यूपी सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए प्रदर्शनकारी ट्रैक्टर लेकर शहीद भगत सिंह चौराहे से टर्न कर माहिल तालाब, कोंच रोड, जेल रोड होकर पूरे शहर का भ्रमण कर वापस टाउन हाल पहुंचे। टाउन हॉल के समीप ए़डीएम प्रमिल सिंह, एएसपी डॉ. अवधेश सिंह मौजूद रहे। 

हमीरपुर-

 

किसान कानूनों के विरोध में गणतंत्र दिवस पर समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने कस्बे में ट्रैक्टर रैली निकाली। जिसमें करीब दो दर्जन ट्रैक्टरों सहित सैकड़ों सपा कार्यकर्ता शामिल रहे। इस दौरान मुख्य मार्ग पर स्टेट बैंक चौराहे के पास नारेबाजी कर रहे सपाइयों को पुलिस ने रोका। जिस पर निवर्तमान ब्लॉक प्रमुख प्रतिनिधि सत्यपाल यादव की कोतवाली पुलिस से तीखी नोंकझोंक हो गयी। पुलिस पर अभद्रता करने का आरोप लगाते हुए सत्यपाल यादव ने जमकर विरोध जताया।

बवाल बढ़ता देख पुलिस सत्यपाल यादव को जबरन कोतवाली ले जाने लगी। जिससे भड़के उनके समर्थक कोतवाल की गाड़ी के सामने लेट गए। सपाइयों के तीखे तेवर देख पुलिस सत्यपाल यादव सहित करीब एक दर्जन सपा कार्यकर्ताओं को जबरन गाड़ी में लाद कर कोतवाली ले गयी। ट्रैक्टर रैली के दौरान समाजवादी पार्टी कई खेमों में बंटी रही। पुलिस के डर से अन्य नेताओं ने शान्तिपूर्वक रैली निकाल कर विरोध जताया।

उन्नाव-

 

गंजमुरादाबाद नगर के सदर बाजार अशोक महाविद्यालय से गंजमुरादाबाद विकास खंड के ब्लॉक प्रमुख पति सपा नेता के नेतृत्व में ट्रैक्टर रैली निकली पुलिस ने हरदोई उन्नाव मार्ग पर नगर के मुख्य चौराहे पर रोक उन्हें वापस कर दिया। हसनगंज विधायक, पुरवा ब्लाक के ग्राम ऊंचगांवसानी से ब्लाक प्रमुख शिवबहादुर पटेल सपा कार्यकर्ताओं के साथ ट्रैक्टर से निकले लेकिन गांव में ही कोतवाली पुलिस ने रोक दिया। यात्रा में कुलदीप, शिवेन्द्र पटेल, लालसागर पटेल आदि शामिल रहे। सफीपुर मे पूर्व राज्यमंत्री सुधीर रावत के नेतृत्व में सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने चकलवंशी से ट्रैक्टर रैली लेकर सफीपुर की ओर चले। तिरंगा झंडे लगे ट्रैक्टरों पर सवार सपा नेता सफीपुर की ओर जा रहे थे पुलिस ने उन्हें रास्ते में रोक लिया।

पूर्व राज्य मंत्री , उनके समर्थकों में जितेंद्र कुशवाहा आदि पचास से अधिक नेताओं को पुलिस ने हिरासत में ले सफीपुर डाक में नजर बंद कर दिया। पुरवा के पूर्व विधायक उदयराज यादव के नेतृत्व में सपा कार्यकर्ता ट्रैक्टर रैली लेकर तहसील की ओर चले पर मौरावां पुलिस ने उन्हें हिलौली से आगे नहीं बढने दिया। एसडीएम राजेश चौरसिया ने उन्हें रोका। असोहा ब्लाक प्रमुख राजकुमार रावत के नेतृत्व में सपाइयों ने ट्रैक्टर रैली निकाली।

 

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप